लाइव टीवी
open in app

NASA: आखिर क्यों ऐस्टरॉयड से नासा टकराने जा रहा है अपना स्पेसक्राफ्ट, 'महाविनाश' का खतरा?

Updated Sep 26, 2022 | 14:07 IST

नासा का एक स्पेसक्राफ्ट भारतीय समयानुसार 27 सितंबर को सुबह 4 बजकर 44 मिनट पर टकराएगा। इस अभियान के लिए नासा सालों से तैयारी कर रहा था।

Loading ...
nasa, nasa spacecraft, asteroid
तस्वीर साभार:&nbspAP
ऐस्टरॉयड से नासा टकराएगा अपना स्पेसक्राफ्ट
मुख्य बातें
  • 27 सितंबर को ऐस्टरॉयड से टकराएगा स्पेसक्राफ्ट
  • इस मिशन के सफल रहने के बाद भविष्य में धरती को किया जा सकेगा सुरक्षित
  • धरती की और बढ़ने वाले ऐस्टरॉयड की दिशा बदलने में मिलेगी मदद

भविष्य में धरती की ओर बढ़ने वाले ऐस्टरॉयड से धरती सुरक्षित रहेगी या नहीं, इसका फैसला मंगलवार सुबह चार बजकर 44 मिनट पर हो जाएगा। नासा भविष्य में होने वाले महाविनाश को रोकने के लिए एक ट्रायल कर रहा है।

डार्ट नाम का एक अंतरिक्ष यान मंगलवार को एक ऐस्टरॉयड से टकराएगा। इस यान की स्पीड 14,000 मील प्रति घंटे (22,500 किलोमीटर प्रति घंटे) होगी। इस टक्कर का मकसद है, उस ऐस्टरॉयड की दिशा बदलना है, ताकि भविष्य में कभी ऐसी परिस्थिति उत्पन्न हो तो उसकी दिशा बदली जा सके। 

जिस ऐस्टरॉयड से नासा का यह स्पेसक्राफ्ट टकराएगा वो पृथ्वी से लगभग 7 मिलियन मील (9.6 मिलियन किलोमीटर) दूर है। जिस स्पेस यान को इस ऐस्टरॉयड से टकराना है उसे 24 नवंबर 2021 को लॉन्च किया गया था। जो भारतीय समयानुसार कल यानि कि मंगलवार और अमेरिकी समयानुसार आज शाम सात बजकर 14 मिनट पर अपने लक्ष्य के पास पहुंच जाएगा। 

इस टक्कर के बाद ऐस्टरॉयड में एक बड़ा सा गड्ढा बन जाएगा, जिससे ऐस्टरॉयड के घूमने की गति में एक प्रतिशत का बदलाव आ जाएगा। कहने में तो यह बदलाव छोटा है, लेकिन इसका असर बड़ा होगा। इस टक्कर के बाद ऐस्टरॉयड के घूमने का रास्ता भी थोड़ा सा बदल जाएगा। टक्कर के बाद ऐसे तो बदलाव तुरंत दिखने लगेंगे, लेकिन इसके असर का सही तरीके से विश्लेषण के लिए थोड़ा समय लग सकता है।

Advertising
Advertising

इस टक्कर को नासा लाइव भी दिखाने वाला है। आप इसे NASA Television की वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं। साथ ही यूट्यूब पर NASA TV's Media Channel पर भी इसका लाइव प्रसारण देख सकते हैं।

ये भी पढ़ें- Nasa Artemis 1 Launch: 50 साल बाद फिर क्यों चंद्रमा पर जा रहा है नासा, जानें साल 2040 से क्या है कनेक्शन