खतरे में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की कुर्सी! संसद ने पास किया महाभियोग प्रस्ताव

दुनिया
किशोर जोशी
Updated Dec 19, 2019 | 08:08 IST

Donald Trump impeached by the House of Representatives: अमेरिकी संसद ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव पास हो गया है। यह प्रस्ताव अमेरिका के निचले सदन हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव ने पास किया है।

खतरे में ट्रंप की कुर्सी, महाभियोग प्रस्ताव हुआ पास
US President Donald Trump impeached by the House of Representatives will face trial in the Senate  |  तस्वीर साभार: BCCL

मुख्य बातें

  • अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ निचले सदन में महाभियोग प्रस्ताव हुआ पास
  • अब इस प्रस्ताव को सीनेट में ले जाया जाएगा, जहां ट्रंप की पार्टी के पास है बहुमत
  • ट्रंप पर सत्ता का दुरुपयोग करने के लगे हैं आरोप, ट्रंप बोले मैंने कुछ भी गलत नहीं किया

वाशिंगटन:  अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ लाया गया महाभियोग प्रस्ताव हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव (निचले सदन) ने पारित कर दिया है। यह प्रस्ताव अब उच्च सदन सीनेट को भेजा जाएगा जहां ट्रंप की पार्टी रिपब्लिकन के पास बहुमत है। विपक्षी डेमोक्रैट्स के बहुमत वाले हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव में महाभियोग के पक्ष में 230 मत पड़े और विरोध में 197 वोट पड़े। अगर ट्रंप के खिलाफ बहुमत जाता है तो इसके लिए दो तिहाई मतों की आवश्यकता होगी जो फिलहाल सीनेट के नजरिए से संभव नजर नहीं आता है।

इससे पहले अमेरिकी संसद के निचले सदन हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव में बुधवार काफी लंबी बहस चली। इस दौरान  राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि विपक्ष तख्तापलट की कोशिश करके अमेरिकी लोकतंत्र को नष्ट करना चाहता है। उन्होंने कहा कि मैंने कुछ भी गलत नहीं किया है इसलिए प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैन्सी पेलोसी महाभियोग प्रक्रिया को फौरन रोक देना चाहिए।
 

 

 

दरअसल ट्रंप पर सत्ता का दुरुपयोग करने के आरोप लगे हैं। प्रतिनिधि सभा की न्यायिक समिति की कई घंटों तक बहस चली थी जिसके बाद पिछले हफ्ते ट्रंप के खिलाफ दो आरोपों को मंजूरी दी गई।

पहला सत्ता का दुरुपयोग है जिसमें ट्रंप पर यूक्रेन पर 2020 के आम चुनावों में उनके संभावित राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी जो बिडेन को बदनाम करने के लिए दबाव बनाने का आरोप है। वहीं ट्रंप पर दूसरा आरोप है कि उन्होंने महाभियोग मामले में सदन की जांच में सहयोग नहीं किया। ट्रंप को भरोसा है कि डेमोक्रेटों को उन्हें पद से हटाने के लिए जरूरी दो तिहाई सीनेटरों का समर्थन नहीं मिलेगा।

 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर