कोरोना की कैद में दुनिया, पीएम मोदी और रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन ने की फोन पर बात

दुनियाभर में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन ने फोन पर बात की है। दोनों नेताओं के बीच इससे निपटने और इसकी रोकथाम पर चर्चा हुई।

कोरोना की कैद में दुनिया, पीएम मोदी और रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन ने की फोन पर बात
कोरोना की कैद में दुनिया, पीएम मोदी और रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन ने की फोन पर बात  |  तस्वीर साभार: AP, File Image

मुख्य बातें

  • दुनियाभर में कोरोना के बढ़ते प्रकोप के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन ने फोन पर बातचीत की
  • कोरोना वायरस भारत में भी पैर पसार रहा है, जिसे देखते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने देश में 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की है
  • कोविड-19 के बढ़ते मामलों को देखते हुए रूस ने भी कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं और अगले सप्‍ताह देश में पेड हॉलिडे होने की घोषणा की है

नई दिल्‍ली : ऐसे में जबकि पूरी दुनिया कोरोना वायरस की कैद से बाहर निकलने के लिए छटपटा रही है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन ने फोन पर बातचीत की है। दोनों देशों के नेताओं ने इस वायरस से निपटने और इसकी रोकथाम को लेकर चर्चा की। पीएम मोदी की रूस के राष्‍ट्रपति से यह बातचीत ऐसे समय में हुई है, जबकि भारत ने कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए देश में 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की है। वहीं रूस ने भी कई कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं और अगले सप्‍ताह पूरे देश में पेड हॉलिडे होने की घोषणा की है।

पीएम मोदी व पुतिन की बातचीत

पीएम मोदी और पुतिन की बातचीत जहां भारत-रूस संबंधों के सिलसिले में अहम है, वहीं यह इस लिहाज से भी खास है कि आज पूरी दुनिया जब कोरोना से मुकाबले में पस्‍त नजर आ रही है और यहां तक कि सबसे ताकतवर मुल्क अमेरिका भी इसका निदान नहीं ढूंढ पा रहा है, रूस ने इस संक्रामक रोग के प्रसार पर अपने देश में काफी हद तक नियंत्रण रखा हुआ है। रूस में इस संक्रमण से 3 लोगों की जान गई है, जबकि इससे संक्रमित मरीजों की संख्‍या 658 बताई जा रही है। वहीं अमेरिका में इस घातक बीमारी से 886 लोगों की जान जा चुकी है, जबकि 63,098 संक्रमित हैं।

परस्‍पर सहयोग का आश्‍वासन

दोनों नेताओं की बातचीत में रूस और भारत में क्रमश: भारतीय और रूसी नागरिकों का मसला भी उठा। पीएम मोदी ने जहां रूस में रह रहे भारतीय छात्रों की सलामती सुनिश्चित करने के लिए रूसी अधिकारियों के सहयोग की तारीफ की और उम्‍मीद जताई कि आगे भी इसी तरह का सहयोग जारी रहेगा, वहीं रूस के राष्‍ट्रपति ने भारत को हर संभव मदद मुहैया कराने का आश्‍वासन दिया। इस दौरान पीएम मोदी ने भी रूस के राष्‍ट्रपति को यकीन दिलाया कि भारत रूसी नागरिकों की सकुशल वापसी के लिए हरसंभव प्रयास करेगा।

भारत भी संक्रमण की चपेट में

दोनों नेताओं ने इस वैश्विक संकट से उपजी चुनौतियों का मिलकर मुकाबला करने को लेकर आपसी सहयोग पर भी सहमति जताई। पीएम मोदी ने इस घातक संक्रमण से जान गंवाने वालों के प्रति संवेदना जताई तो ठीक होने वालों के लिए खुशी जताते हुए कहा कि उम्‍मीद जताई कि राष्‍ट्रपति पुतिन के नेतृत्‍व में रूस इस घातक संक्रमण से लड़ाई में जीत हासिल करेगा। पीएम मोदी व रूस के राष्‍ट्रपति की यह बातचीत ऐसे समय में हुई है, जबकि भारत भी इस गंभीर संक्रमण की चपेट में है। देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्‍या बुधवार को 606 हो गई है, जबकि 11 लोगों की इससे मौत हो चुकी है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर