पेगासस जासूसी मामले में अब इमरान खान की एंट्री, रिपोर्ट में दावा- निशाने पर थे PAK PM

दुनिया
भाषा
Updated Jul 20, 2021 | 00:23 IST

इजरायल कंपनी के पैगासस स्‍पाइवेयर से जासूसी के मसले पर भारत के साथ-साथ पाकिस्‍तान में भी हलचल है। एक रिपोर्ट दावा किया गया है कि पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भी निशाने पर थे।

पेगासस जासूसी मामले में अब इमरान खान की एंट्री, रिपोर्ट में दावा- निशाने पर थे PAK PM
पेगासस जासूसी मामले में अब इमरान खान की एंट्री, रिपोर्ट में दावा- निशाने पर थे PAK PM  |  तस्वीर साभार: AP, File Image

मुख्य बातें

  • पेगासस जासूसी मामले को लेकर पाकिस्‍तान में भी हलचल मची हुई है
  • रिपोर्ट के मुताबिक, लिस्‍ट में 100 से अधिक पाकिस्‍तानी फोन नंबर हैं
  • इनमें वह नंबर भी है, जिसका इस्‍तेमाल कभी इमरान खान ने किया था

इस्लामाबाद : इजराइल के एनएसओ समूह द्वारा निर्मित पेगासस स्पाइवेयर प्रोग्राम के ग्राहकों के संभावित लक्ष्यों में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान शामिल थे। मीडिया रिपोर्ट में सोमवार यह दावा किया गया।

'डॉन' अखबार ने खबर दी है कि डेटा लीक की जांच में एक अंतरराष्ट्रीय मीडिया समूह के सहयोगात्मक प्रयासों से पता चला है कि जिन लोगों के फोन को निशाना बनाया गया था उनकी सूची में कम से कम एक नंबर ऐसा मिला है जिसका प्रधानमंत्री खान ने कभी इस्तेमाल किया था।

लिस्‍ट में 100 से अधिक पाकिस्‍तानी नंबर

खबर के मुताबिक, यह स्पष्ट नहीं है कि क्या वास्तव में प्रधानमंत्री खान का फोन हैक किया गया था। यह भी स्पष्ट नहीं है कि सूची में पाकिस्तान के कितने अन्य लोग है। 'द वाशिंगटन पोस्ट' के मुताबिक सूची में 100 से ज्यादा पाकिस्तानी नंबर हैं।

पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने कहा कि वह फोन हैक करने के लिए स्पाइवेयर प्रोग्राम के इस्तेमाल की खबरों से बेहद चिंतित हैं।

रिपोर्ट पर टिप्पणी करते हुए, मानवाधिकार मंत्री शिरीन ने इसे इजरायल से जोड़ा और कहा, 'एनएसओ को स्पष्ट रूप से बिक्री के लिए इजरायली सरकार से मंजूरी मिलती है, इसलिए संबंध स्पष्ट हैं।'

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर