हर जगह मात खाने के बाद अब पाकिस्तान के पीएम इमरान खान जायेंगे चीन यात्रा पर

दुनिया
Updated Oct 02, 2019 | 01:37 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

pak pm imran khan visit china: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान चीन के शीर्ष नेतृत्व के साथ बैठक करने और निवेशकों को आकर्षित करने के लिए इस महीने वहां जायेंगे। 

imran khan
इमरान खान (फाइल फोटो) 

नई दिल्ली: कश्मीर मामले (Kashmir) पर तमाम मंचों पर अपनी बात रखने वाले पाक पीएम इमरान (Imran Khan) को कहीं भी इस मुद्दे पर समर्थन नहीं मिला अब आखिर हारकर वो अपने सदाबहार दोस्त चीन (China) की यात्रा पर जा रहे हैं। चीन अंतरराष्ट्रीय व्यापार संवर्धन परिषद के अनुसार इस यात्रा के दौरान खान आठ अक्टूबर को बीजिंग में चीन पाकिस्तान व्यापार मंच पर हिस्सा लेंगे।

इस यात्रा की सटीक तारीख अबतक सामने नहीं आयी है। यह इस साल उनकी तीसरी यात्रा होगी।खान की यह चीन यात्रा ऐसे समय में हो रही है जब कश्मीर को लेकर पाकिस्तान और भारत के बीच तनाव बहुत बढ़ गया है।

चीन पाकिस्तान का गहरा मित्र है और उसने कश्मीर मुद्दे पर उसका साथ दिया है। चीन के विदेशमंत्री यांग यी ने कहा है, 'यथास्थिति में एकतरफा बदलाव लाने वाला कोई भी कदम नहीं उठाया जाना चाहिए। भारत और पाकिस्तान का पड़ोसी होने के नाते चीन इस विवाद को प्रभावी तरीके से संभाले जाने की उम्मीद करता है तथा उसे दोनों पक्षों के बीच संबंधों में स्थायित्व बहाल होने की भी आस है।'

 

यांग ने पिछले सप्ताह संयुक्त राष्ट्र महासभा में कहा था, 'अतीत से प्राप्त कश्मीर विवाद को संयुक्त राष्ट्र चार्टर, सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों और द्विपक्षीय समझाौतों के अनुसार शांतिपूर्ण और उपयुक्त ढंग से हल किया जाना चाहिए।'

इससे पहले हाल ही में अमेरिका ने पाकिस्तान से सवाल किया था कि वह केवल कश्मीर के मुसलमानों के मानवाधिकारों को लेकर ही क्यों परेशान है और पूरे चीन में इस समुदाय के सदस्यों की ‘भयावह परिस्थितियों’ को वह क्यों नहीं उजागर कर रहा है।

संयुक्त राष्ट्र महासभा के 74 वें सत्र में एक विशेष ब्रीफिंग के दौरान अमेरिका के दक्षिण और मध्य एशिया के लिए कार्यवाहक सहायक मंत्री एलिस वेल्स ने चीन के खिलाफ बातें नहीं करने के लिए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की आलोचना की थी।

चीन ने अपने शिंजियांग प्रांत में उइगर समुदाय के करीब दस लाख लोगों को हिरासत में ले रखा है। चीन पाकिस्तान का स्थायी मित्र है। चीन जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मसूद अजहर और मुंबई आतंकी हमले के साजिशकर्ता हाफिज सईद जैसे पाकिस्तान स्थित आतंकवादियों के खिलाफ प्रतिबंध लगाने के वैश्विक प्रयासों में अक्सर इस्लामाबाद का बचाव करता रहा है।

 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर