जानिए-अमेरिका की डेल्टा फोर्स के बारे में जिसने किया खूंखार आतंकी बगदादी का अंत

दुनिया
आलोक राव
Updated Oct 28, 2019 | 15:49 IST

America's Delta Force : डेल्टा फोर्स की स्थापना कर्नल चार्ल्स बैकविथ ने की थी। बैकविथ को लगता था कि सेना में एक टुकड़ी ऐसी होनी चाहिए जो शारीरिक रूप के साथ-साथ मानसिक रूप से काफी मजबूत हो।

Know about America's Delta Force which eliminated Baghdadi in Syria
अमेरिका की डेल्टा फोर्स ने बगदादी के ठिकाने पर किया हमला। (फाइल फोटो)  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • अमेरिका की डेल्टा फोर्स ने शनिवार को बगदादी के ठिकाने पर किया हमला
  • आतंक विरोधी अभियानों सहित खतरनाक मिशन को अंजाम देती है यह फोर्स
  • इस फोर्स में सेना के अनुभवी लोग शामिल होते हैं, काफी सख्त होती है इनकी ट्रेनिंग

नई दिल्ली : अमेरिका ने दुनिया के सबसे खूंखार आतंकवादी अबु बक्र अल-बगदादी का अंत कर दिया है। अपनी दरिंदगी, यातना और जुल्म की इंतहां से दुनिया भर में दहशत पैदा करने वाले इस आतंकवादी संगठन के सरगना का खात्मा अमेरिका की डेल्टा फोर्स ने किया है। इस विशेष बल का पूरा नाम-स्पेशल फोर्सेज ऑपरेशनल डिटैचमैंट डेल्टा है जिसे शॉर्ट में डेल्टा फोर्स कहा जाता है। यह अमेरिका की नेवी सील कमांडो की तरह स्पेशल फोर्स है जिसके ऊपर खतरनाक एवं जोखिम भरे मिशन को अंजाम देने की जिम्मेदारी होती है। डेल्टा फोर्स अमेरिकी थल सेना के डिवीजन के अधीन काम करती है और ज्वाइंट स्पेशल ऑपरेशंस के पास इसका ऑपरेशनल कंट्रोल होता है। आइए जानते हैं कि इस डेल्टा फोर्स के बारे में-

  • डेल्टा फोर्स के अभियान बेहद गोपनीय रखे जाते हैं। इसके अभियानों के बारे में राष्ट्रपति और चुनिंदा अधिकारियों के अलावा किसी को जानकारी नहीं होती है।
  • यह फोर्स आतंकवाद विरोधी अभियानों, बंधक संकट से लोगों को छुड़ाने जैसे जोखिम भरे मिशन्स को अंजाम देता है। यह बल खास तौर से 1980 के दशक से अब तक अमेरिका के सभी प्रमुख अभियानों में किसी न किसी रूप में शामिल रहा है।
  • डेल्टा फोर्स की स्थापना कर्नल चार्ल्स बैकविथ ने की थी। बैकविथ 1960 के दशक में ब्रिटिश एयर सर्विस में थे और उन्होंने मलेशिया में कम्यूनिस्ट गुरिल्लाओं के खिलाफ एक सफल आतंकविरोधी अभियान चलाया था।
  • बैकविथ ने हमेशा एक विशेष बल की जरूरत महसूस की। उन्हें लगता था कि सेना में एक टुकड़ी ऐसी होनी चाहिए जो शारीरिक रूप के साथ-साथ मानसिक रूप से काफी सशक्त हो और जो जरूरत पड़ने पर स्वतंत्र रूप से जोखिम भरे मिशन को अंजाम दे सके। इसलिए उन्होंने जंग का अनुभव रखने वाले नॉन-कमीशंड ऑफिसर्स एवं अनुभवी अधिकारियों के मिश्रण से बनी एक खास यूनिट पर जोर दिया।  
  • डेल्टा फोर्स में चुनिंदा लोग शामिल होते हैं। डेल्टा ऑपरेटर ट्रेनिंग कोर्स (ओटीसी) का प्रशिक्षण प्राप्त करने से पहले जवानों एवं अधिकारियों के पास कई वर्षों का अनुभव होना चाहिए। इसके अलावा उन्हें पैराशूट ऑपरेशंस में पारंगत होना होता है। इस बल के जवानों को एक 'गोपनीय' सुरक्षा क्लियरेंस और अनुशासन जांच से गुजरना होता है।    
  • डेल्टा फोर्स के जवानों को डिमोलिशन, लॉक पिकिंग सहित बम बनाने की तकनीक सिखाई जाती है। अमेरिका खुफिया एजेंसी सीआईए के लोग भी इन्हें प्रशिक्षण देते हैं। ओटीसी ट्रेनिंग से पहले चयनित जवानों एवं अधिकारियों को कई तरह की शारीरिक एवं मानसिक परीक्षाओं से गुजरना पड़ता है।
  • बैकविथ की अगुवाई में 1979 में डेल्टा फोर्स का मिशन ऑपरेशन इगल क्ला असफल हो गया था। इस ऑपरेशन के तहत तेहरान में अमेरिकी दूतावास में बंधक बनाए गए अमेरिकी नागरिकों को छुड़ाना था। 
  • अफगानिस्तान में डेल्टा फोर्स ने कई अहम मिशन अंजाम दिए हैं। इराक युद्ध में भी इस फोर्स ने सफल ऑपरेशन किए। डेल्टा फोर्स ने अफगानिस्तान में तत्कालीन राष्ट्रपति हामिद करजई को लेजर गाइडेड बम से बचाया है। 
     
अगली खबर