Coronavirus : इटली में एक ही दिन में 475 लोगों की मौत, फ्रांस में भी बिगड़े हालात

चीन में तबाही मचाने वाला कोरोना अब पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले चुका है, जिसका केंद्र फिलहाल यूरोप बनता दिख रहा है। यूरोप में इटली सबसे सर्वाधिक प्रभावित हुआ है।

Coronavirus : इटली में एक ही दिन में 475 लोगों की मौत, फ्रांस में भी बिगड़े हालात
Coronavirus : इटली में एक ही दिन में 475 लोगों की मौत, फ्रांस में भी बिगड़े हालात  |  तस्वीर साभार: AP, File Image

मुख्य बातें

  • कोरोना वायरस से इटली में बुधवार को 475 लोगों की जान चली गई, जो किसी भी देश में एक दिन में इस घातक संक्रमण से मरने वालों की सबसे बड़ी संख्‍या है
  • इटली में इस घातक संक्रमण के कारण जान गंवाने वालों की संख्‍या बढ़कर 2,978 हो गई है, जो चीन में इस जानलेवा संक्रमण से दम तोड़ने वालों की संख्‍या के आधे से अधिक है
  • फ्रांस में भी हालात बेकाबू होते जा रहे हैं, जहां पिछले 24 घंटों के दौरान इस घातक संक्रमण से 89 लोगों की जान चली गई

रोम : चीन से शुरू हुआ कोरोना वायरस दुनियाभर में तबाही मचा रहा है। चीन के बाद इससे सर्वाधिक प्रभावित इटली नजर आ रहा है, जहां बुधवार को इस घातक संक्रमण से 475 लोगों की जान चली गई। यह किसी भी देश में एक दिन में इस जानलेवा संक्रमण से जान गंवाने वालों की सबसे बड़ी संख्‍या है। इसके साथ ही इटली में इस घातक संक्रमण के कारण जान गंवाने वालों की संख्‍या बढ़कर 2,978 हो गई है, जबकि फ्रांस और जर्मनी में भी हालात गंभीर होते जा रहे हैं। फ्रांस में बीते 24 घंटे के दौरान कोविड-19 से पीड़‍ित 89 लोगों की जान गई है।

एक दिन में सर्वाधिक मौत

इटली में इससे पहले रविवार को 368 लोगों की मौत हुई थी, लेकिन बुधवार को इस घातक संक्रमण से 475 लोगों की जान चली गई, जो एक दिन में इस घातक संक्रमण से मरने वालों की सबसे बड़ी संख्‍या है। यहां 35,713 लोग इस घातक संक्रमण की चपेट में है। लगभग 6 करोड़ की आबादी वाले इस छोटे से यूरोपीय देश में कोरोना वायरस से हुई मौतों का आंकड़ा दुनियाभर में इस बीमारी से जान गंवाने वालों की कुल संख्‍या का लगभग 34.2 प्रतिशत है। यहां संक्रमण के मामले में कोई कमी नहीं दिख रही है, जबकि यह देश प‍िछले दो सप्‍ताह से पूरी तरह लॉकडाउन की स्थिति में है।

फ्रांस में भी ब‍िगड़े हालात

यूरोप के अन्‍य देशों में भी हालात बुरे हो रहे हैं, जिसे लेकर विश्‍व‍ स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (WHO) पहले ही चेता चुका है। फ्रांस में भी हालात बेकाबू होते जा रहे हैं। यहां पिछले 24 घंटों के दौरान 89 लोगों की जान चली गई, जिसके साथ ही इस यूरोपीय देश में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्‍या बढ़कर 264 हो गई है, जबकि 9,134 लोगों के इस घातक वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। फ्रांस के राष्‍ट्रपति इमैनुएल मैक्रों पहले ही हालात को 'युद्ध' जैसा बता चुके हैं, जिसमें लड़ाई किसी देश या सेना के खिलाफ नहीं, एक ऐसे शत्रु से है, जो अदृश्‍य है और लगातार बढ़ता जा रहा है।

'द्वितीय विश्‍वयुद्ध के बाद सबसे बड़ी चुनौती'

वहीं, जर्मनी पर भी कोरोना वायरस की गिरफ्त में आने का खतरा बढ़ता जा रहा है, जहां इस जानलेवा वायरस के संक्रमण से 20 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है, जबकि 8,000 लोगों के इससे संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने कोरोना वायरस को द्वितीय विश्‍वयुद्ध के बाद सबसे बड़ी चुनौती बताया। टीवी पर देश के नाम अपने संबो‍धन में उन्‍होंने कहा कि हालात गंभीर हैं। यह द्वितीय विश्‍व‍युद्ध के बाद जर्मनी के समक्ष सबसे बड़ी चुनौती है। इसे गंभीरता से लेने की जरूरत है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर