इमरान खान के अमेरिका दौरे के बाद उनके कपड़ों-चप्‍पल पर विवाद, उठे सवाल- क्‍या लेकर लौटे?

दुनिया
Updated Jul 27, 2019 | 21:04 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

इमरान खान के अमेरिका दौरे के बाद अब उनके पहनावे को लेकर सवाल उठ रहे हैं। वहीं यह सवाल भी उठ रहा है कि आखिर इस दौरे से पाकिस्‍तान को हासिल क्‍या हुआ?

Imran Khan and Donald Trump
डोनाल्‍ड ट्रंप के साथ इमरान खान  |  तस्वीर साभार: AP
मुख्य बातें
  • इमरान खान अमेरिका दौरे के दौरान पारंपरिक परिधान में नजर आए थे
  • ट्रंप से मुलाकात के दौरान भी इमरान खान ने वेस्‍टर्न कपड़े नहीं पहने थे
  • इमरान खान के अमेरिका दौरे के औचित्‍य पर भी सवाल उठ रहे हैं

इस्‍लामाबद : पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अमेरिका दौरे से लौट आए हैं, पर उनकी यात्रा को लेकर जारी विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा। एक तरफ जहां इमरान खान के अमेरिका दौरे की उपलब्धियों को लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं, वहीं अमेरिका में पाकिस्‍तान के पीएम के परिधान को लेकर भी नया विवाद सामने आया है। इमरान खान ने अमेरिका दौरे के दौरान पारंपरिक शेरवानी और पेशावरी चप्‍पल पहने थे, जिसे लेकर दो तरह की बातें सामने आ रही हैं।

पाकिस्‍तान में आर्थिक बदहाली के हालात के बीच हुए इस दौरे के जरिये इमरान खान ने यह दर्शाने की कोशिश की कि वे फिजूलखर्ची में यकीन नहीं रखते। रिपोर्ट्स में कहा गया कि इमरान खान ने चार्टर्ड प्‍लेन की बजाय कतर एयरवेज से अमेरिका जाने और वहां महंगे होटलों में रुकने की बजाय पाकिस्‍तानी राजदूत के आधिकारिक आवास में ही रहने का फैसला किया। अब इमरान खान ने अमेरिका दौरे के दौरान जो परिधान पहना उसे लेकर भी एक खेमा जहां यह दावे कर रहा है कि प्रधानमंत्री ने पैसे बचाने के लिए सस्‍ते टेलर से कपड़े बनवाए, वहीं पाकिस्‍तान में कपड़ों के एक महंगे स्‍टोर का दावा है कि पीएम ने अमेरिका दौरे के दौरान जो परिधान पहने थे, उसे उसने तैयार करवाया।

इमरान पूरे अमेरिका दौरे के दौरान पाकिस्‍तान के पारंपरिक परिधान में नजर आए। यहां तक कि अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप, विदेश मंत्री माइक पॉम्पिओ और अन्‍य अधिकारियों से मुलाकात के दौरान भी इमरान खान ने पारंपरिक शेरवानी और पेशावरी चप्‍पल ही पहन रखे थे। इमरान के समर्थकों ने जहां इसके लिए उनकी तारीफ की है और कहा कि पीएम ने फिजूलखर्ची की बजाय सादगी को अपनाया, वहीं इस्‍लामाबाद के लग्‍जरी स्‍टोर मोहतरम का दावा है कि पीएम ने शेरवानी की 7 जोड़‍ियां उसकी स्‍टोर से खरीदे।

पाकिस्‍तान में मोहतरम काफी महंगा स्‍टोर माना जाता है, जिसमें सामान्‍य शेरवानी या शलवार कमीज की कीमत भी लगभग 16,000 पाकिस्‍तानी रुपये है। इमरान खान के साथ अमेरिका दौरे पर गए सैयद जुल्‍फी बुखारी ने इन दावों का खंडन किया है कि अमेरिका दौरे के दौरान पीएम ने महंगे ब्रांड के कपड़े पहने। जुल्‍फी बुखारी विदेशों में रहने वाले पाकिस्‍तानियों से जुड़े मुद्दों को लेकर पाकिस्‍तानी पीएम के विशेष सहायक हैं। उन्‍होंने ट्वीट कर कहा, 'प्रधानमंत्री कभी डिजाइनर कपड़ों या उन्‍हें पहनने के शौकीन नहीं रहे हैं।'

उन्‍होंने यह भी कहा कि सामान्‍य शलवार-कमीज उनके पसंदीदा परिधान रहे हैं और 'फर्स्‍ट लेडी' (इमरान खान की पत्‍नी बुशरा) ने कपड़े खरीदकर आम दर्जी से इसे बनवाया। उन्‍होंने साफ कहा कि जो भी डिजाइनर प्रधानमंत्री के कपड़ों को लेकर श्रेय लेने की कोशिश कर रहा है, वह वास्‍तव में झूठ बोल रहा है। 

इमरान खान के कपड़ों को लेकर उपजे विवाद के बीच पाक सरजमीं पार्टी (पीएसपी) ने पीएम के अमेरिका दौरे की उपलब्धि को लेकर भी सवाल किया और पूछा किया कि क्‍या इस दौरे से पाकिस्‍तान की जनता की समस्‍याओं का समाधान हो जाएगा और कुपोषण के शिकार बच्‍चों को सुरक्षा मिल पाएगी? पीएसपी नेता सैयद मुस्‍तफा कमाल ने यह भी कहा कि ऐसा लगता है कि इमरान खान ने यह दौरा अमेरिका को खुश करने के लिए किया।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर