वर्चुअल चर्चा 'समय की बर्बादी!' डोनाल्‍ड ट्रंप का डिजिटल माध्यमों से बहस में हिस्सा लेने से इनकार

दुनिया
भाषा
Updated Oct 08, 2020 | 23:48 IST

US Presidential election: अमेरिका में राष्‍ट्रपति पद के उम्‍मीदवारों के बीच दूसरी चर्चा के लिए 15 अक्‍टूबर की तारीख तय है। चर्चा डिजिटल माध्‍यम से होनी है, पर ट्रंप ने इसमें शामिल होने से इनकार किया है।

वर्चुअल चर्चा 'समय की बर्बादी!' डोनाल्‍ड ट्रंप का डिजिटल माध्यमों से बहस में हिस्सा लेने से इनकार
वर्चुअल चर्चा 'समय की बर्बादी!' डोनाल्‍ड ट्रंप का डिजिटल माध्यमों से बहस में हिस्सा लेने से इनकार  |  तस्वीर साभार: AP, File Image

मुख्य बातें

  • अमेरिका में राष्‍ट्रपति पद के उम्‍मीदवारों के बीच दूसरी बहस 15 अक्‍टूबर को होगी
  • ट्रंप के कोरोना संक्रमित होने के बीच यह चर्चा डिजिटल माध्‍यम से कराया जाना है
  • अमेरिकी राष्‍ट्रपति ने हालांकि इसे 'समय की बर्बादी' करार दिया है

वाशिंगटन : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने प्रतिद्वंद्वी एवं डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडेन के साथ अगले हफ्ते डिजिटल माध्यमों से बहस कराए जाने पर उसमें भाग लेने से इनकार कर दिया है और इसे 'समय की बर्बादी' करार दिया। राष्ट्रपति पद के उम्मीदवारों के बीच गैर दलीय आयोग ने कहा कि दूसरी बहस 15 अक्टूबर को मियामी में होने का कार्यक्रम है, जिसमें उम्मीदवार दूर-दराज स्थित अलग-अलग स्थानों से हिस्सा लेंगे।

आयोग ने कहा कि उम्मीदवारों के बीच होने वाली दूसरी बहस से जुड़े सभी लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह फैसला किया गया है। हालांकि, ट्रंप ने डिजिटिल माध्यमों से होने वाली बहस में भाग लेने से इनकार कर दिया है। उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस से संक्रमित होने पर राष्ट्रपति ट्रंप इलाज के लिये चार दिनों तक एक सैन्य अस्पताल में भर्ती रहे।

आयोग द्वारा कार्यक्रम के प्रारूप में बदलाव की घोषणा किए जाने के कुछ ही क्षणों बाद ट्रंप ने फॉक्स न्यूज से कहा, 'मैं (बाइडेन के साथ) डिजिटल माध्यमों से बहस नहीं करने जा रहा। मैं डिजिटल माध्यमों से अपना समय बर्बाद नहीं करने जा रहा।' प्रथम बहस में बाइडेन पर खुद के विजेता होने की घोषणा करने वाले ट्रंप ने कहा कि वह मियामी में होने वाली बहस का परिणाम भी यही रहने की उम्मीद करते हैं।

उन्होंने कहा, 'आयोग ने बहस की शैली में बदलाव कर दिया है और यह हमें स्वीकार्य नहीं है। मैंने उन्हें (बाइडेन को) प्रथम बहस में हरा दिया था, मैंने उन्हें आसानी से हरा दिया।' ट्रंप ने आरोप लगाया कि आयोग और हर कोई बाइडेन को बचाने की कोशिश कर रहा है।

बाइडेन की प्रतिक्रिया

वहीं, ट्रंप की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए बाइडेन ने कहा, 'मैं नहीं जानता कि राष्ट्रपति क्या करने जा रहे हैं। वह (ट्रंप) हर सेकेंड अपना मन बदलते हैं। उस पर अभी मेरा कुछ कहना गैर जिम्मेदाराना होगा। मुझे लगता है कि क्या मैं आयोग की सिफारिशों का अनुपालन कर सकता हूं, यदि वह रैली करते हैं तो, मैं नहीं जानता कि मैं क्या करूंगा।'

इस बीच, ट्रंप के बड़े बेटे डोनाल्ड जे ट्रंप जूनियर ने आरोप लगाया कि आयोग ने बहस के प्रारूप को एकतरफा तरीके से बदल दिया क्योंकि बीती रात उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवारों के बीच हुई बहस में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार एवं सीनेटर कमला हैरिस के खिलाफ उप राष्ट्रपति माइक पेंस ने प्रभावशाली प्रदर्शन किया था। इस बीच, ट्रंप के चुनाव प्रचार अभियान ने कहा कि राष्ट्रपति बहस में हिस्सा लेने के बजाय रैली करेंगे।

ट्रंप 2020 प्रचार अभियान प्रबंधक बिल स्टेपियन ने कहा, 'ट्रंप ने बहस से पहले कई नेगेटिव जांच रिपोर्ट पोस्ट की है, इसलिए इस एकतरफा घोषणा की कोई जरूरत नहीं थी।' बाइडेन के चुनाव प्रचार अभियान ने जोर देकर कहा है कि डेमोक्रेटिक नेता की योजना देशवासियों से सीधे तौर पर संवाद करने की है। बाइडेन की उप प्रचार अभियान प्रबंधक केट बेडिंगफिल्ड ने कहा, 'उप राष्ट्रपति बाइडेन अमेरिकी जनता से सीधे तौर पर संवाद करने को लेकर आशावादी हैं।'

उन्होंने बाइडेन द्वारा देशवासियों को एकजुट करने और कोरोना वायरस महामारी से निपटने में ट्रंप के नाकाम रहने से अर्थव्यवस्था के महामंदी के बाद सबसे बुरे दौर से गुजरने का भी जिक्र किया। समाचार एजेंसी एपी की एक खबर के मुताबिक ट्रंप के एक हफ्ते पहले कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। लेकिन मंगलवार को एक ट्वीट में उन्होंने कहा था कि वह मियामी के मंच पर बाइडेन के साथ बहस करने को लेकर आशावादी हैं। उन्होंने कहा, 'यह शानदार होगी।'

बीते सप्‍ताह ट्रंप की रिपोर्ट आई थी पॉजिटिव

वहीं, बाइडेन ने कहा था कि जब तक राष्ट्रपति की कोविड-19 जांच रिपोर्ट नेगेटिव नहीं आ जाती है, तब तक दोनों उम्मीदवारों को बहस में हिस्सा नहीं लेना चाहिए। बाइडेन ने पेन्नसीलवानिया में संवाददाताओं से कहा कि वह उनके साथ बहस करने को लेकर आशावादी हैं लेकिन 'हम बहुत कठोर दिशानिर्देशों का पालन करने जा रहे हैं।'

क्लीवलैंड में बाइडेन के साथ बहस करने के 48 घंटे बाद पिछले गुरुवार को ट्रंप के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी। ट्रंप के संक्रमण ने बाइडेन के लिये भी स्वास्थ्य चिंताएं बढ़ा दी और उन्हें चुनाव प्रचार के लिये जाने से पहले कोविड-19 की कई जांच करानी पड़ी। वाल्टर रीड नेशनल मिलिट्री मेडिकल सेंटर से सोमवार कको छुट्टी मिलने के बाद भी ट्रंप से अन्य लोगों को संक्रमण होने का खतरा है लेकिन उनमें संक्रमण की स्थिति के बारे में चिकित्सकों ने विस्तृत रूप से कोई नयी जानकारी नहीं दी है।

रोग नियंत्रण एवं एहतियात केंद्र के मुताबिक हल्के या मध्यम लक्षणों वाले कोविड-19 के मरीज कम से कम 10 दिन तक संक्रामक हो सकते हैं और उन्हें इतने दिन पृथक रहना चाहिए। बहरहाल, यदि मियामी में होने वाली बहस डिजिटल माध्यमों से होती है, तो ऐसा पहली बार नहीं होगा कि उम्मीदवार एक ही स्थान पर नहीं होंगे। इससे पहले, 1960 में रिचर्ड निक्सन और जॉन एफ केनेडी के बीच हुई तीसरी बहस में दोनों उम्मीदवार अमेरिका के दो तटों पर थे।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर