उत्तर कोरिया के 'क्रिसमस गिफ्ट' पर डोनाल्ट ट्रंप बोले-'हम सफलतापूर्वक इससे निपट लेंगे'

दुनिया
Updated Dec 25, 2019 | 11:53 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

North Korea 'Christmas gift'' : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मंगलवार को कहा कि वह उत्तर कोरिया के 'क्रिसमस गिफ्ट' से सफलतापूर्वक निपट लेंगे। उन्होंने कहा कि यह एक सुंदर गिफ्ट भी हो सकता है।

Donald Trump reacts on North Korea Christmas gift, उत्तर कोरिया के 'क्रिसमस गिफ्ट' पर डोनाल्ट ट्रंप बोले-'हम सफलतापूर्वक इससे निपट लेंगे'  |  तस्वीर साभार: BCCL

मुख्य बातें

  • उत्तर कोरिया ने अमेरिका को 'क्रिसमस गिफ्ट' की दी है धमकी
  • अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि वह इस 'धमकी' से निपट लेंगे
  • दिसंबर की शुरुआत में उत्तर कोरिया ने किया है अहम परीक्षण

वाशिंगटन : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जॉन्ग उन की 'क्रिसमस गिफ्ट' की धमकी को खारिज कर दिया है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा है कि वह इस चुनौती से 'काफी सफलता पूर्वक निपट लेंगे'। उन्होंने कहा कि यह एक 'सुंदर गिफ्ट भी हो सकता है।' ट्रंप ने मंगलवार को एक रिजॉर्ट में पत्रकारों के साथ बातचीत में कहा, 'हम सरप्राइज के बारे में पता लगा लेंगे और हम इससे सफलतापूर्वक निपट लेंगे।' अलजजीरा के मुताबिक ट्रंप ने कहा, 'हम देखेंगे कि क्या होता है। हो सकता है कि यह एक सुंदर गुलदान हो।'

बता दें कि उत्तर कोरिया ने अपने परमाणु हथियार कार्यक्रमों पर अमेरिका को अपना रुख बदलने के लिए एक साल का समय दिया है। उत्तर कोरिया का मानना है कि अमेरिका इस समय को तेजी के साथ गंवा रहा है। दिसंबर की शुरुआत में उत्तर कोरिया ने चेताते हुए कहा कि वह अमेरिका को 'क्रिसमस' गिफ्ट दे सकता है। अमेरिका-उत्तर कोरिया के संबंधों पर नजर रखने वाले विशेषज्ञों का मानना है कि उत्तर कोरिया कोई मिसाइल परीक्षण कर सकता है।

उत्तर कोरिया की इस चेतावनी को अमेरिका में गंभीरता से लिया गया है। अमेरिकी प्रशासन किसी भी चुनौती से निपटने के लिए तैयार है। यहां तक कि अमेरिका ने अपने सहयोगी देशों जापान और कोरिया को भी अलर्ट पर रखा है। दिसंबर महीने की शुरुआत में ही उत्तर कोरिया में एक परीक्षण किया गया। इस टेस्ट के ज्यादा विवरण तो सामने नहीं आए लेकिन यह माना गया कि यह एक इंजन टेस्ट था। विशेषज्ञों का मानना है कि यह लंबी दूरी की मिसाइल में इस्तेमाल होने वाला इंजन हो सकता है।

उत्तर कोरिया में अमेरिकी राजदूत स्टीफन बीगन ने पिछले सप्ताह दक्षिण कोरिया और चीन की यात्रा की। अपनी इस यात्रा के दौरान अमेरिकी अधिकारी ने उत्तर कोरिया को बातचीत की मेज पर आने का आह्वान किया। हाल के महीनों में उत्तर कोरिया ने संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों का उल्लंघन करते हुए नई एवं बैलिस्टिक मिसाइलों का परीक्षण किया है जिसके बाद से अमेरिका के साथ उसकी तनातनी और बढ़ गई है। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर