Coronavirus: जिंदगी की भीख मांग रहे हैं चीन के लोग, गिरफ्तार कर कैंपों में रख रही है सरकार!

दुनिया
किशोर जोशी
Updated Feb 08, 2020 | 16:52 IST

चीन में महामारी का रूप ले चुके कोरोना वायरस से अभी तक 723 लोगों की मौत हो गई है और 35 हजार के तकरीबन लोग इससे संक्रमित हो गए हैं। सोशल मीडिया पर कई चौंकाने वाले वीडियो वायरल हो रहे हैं।

coronavirus China begins mass arrest of sufferers and videos shows suit-clad goons dragging people from their homes
चीन में लोगों को जबरन घरों से खींच रहे हैं सरकारी अधिकारी 

मुख्य बातें

  • सोशल मीडिया पर कई वीडियो वायरल हो रहे हैं जो आप को झकझोर कर रख देंगे
  • लोगों को जबरन घरों से खींचकर रखा जा रहा है कैंपों में, सरकारी अधिकारी कर रहे हैं ये काम
  • शुक्रवार को ही कोरोना वायरस की वजह से चीन में 86 लोगों की मौत हुई

वुहान: महामारी का रूप ले चुके कोरोना वायरस की वजह से  चीन में हाहाकार मचा हुआ है। चीन में इस संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़कर 723 हो गई। इस वायरस का केंद्र रहे वुहान के हुबेई में तो लोग कैदी से हो गए हैं और वो जिंदगी की भीख मांग रहे हैं। सोशल मीडिया पर कई वीडियो वायरल हो रहे हैं जो आप को झकझोर कर रख देंगे। शुक्रवार को एक ही दिन में चीन में 86 लोगों की मौत हो गई। लगभग 35 हजार लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं।

कोरोनोवायरस के सदिंग्ध लोगों को जबरदस्ती उनके घरों से घसीटकर बाहर निकाला जा रहा है और शिविरों में ले जाया जा रहा है।वीडियो में दिख रहा है कि कुछ डॉक्टर या अधिकारी दो लोगों को उनकी बाह पकड़ रहे है। ये लोग घर से नहीं निकल रहे हैं लेकिन जबरन इन्हें निकाला जा रहा है। इस दौरान एक शख्स फर्श पर गिर जाता है उसे घसीटकर अधिकारी ले जा रहे हैं। 

वीडियो में एक व्यक्ति जो फेस मास्क पहने हुए है, उसे अधिकारियों द्वारा जबरन खींचा जाता है और जल्द ही एक जैकेट पहनी महिला को खींचकर बाहर लाया जाता है। हालांकि, अधिकारियों को एक तीसरे व्यक्ति को हटाने में अधिक परेशानी होती है जो दरवाजे पर लेटा हुआ है और बाहर आने से इंकार कर रहा है। दो लोग उसे उठाने की कोशिश करते हैं लेकिन वो नाकाम रहते हैं। बाद में घसीकर उसे भी लाया जाता है।

शुक्रवार को यह पता चला कि चीन की सरकार ने आदेश दिया कि वुहान को सभी संदिग्ध रोगियों और उनके रिश्तेदारों को कैंपों में रखा जाए। वुहान शहर में लगभग 14 मिलियन लोग रहते हैं, लेकिन किसी को पता नहीं है कि कितने लोगों को छोड़ दिया जाएगा और कितनों को वहां रखा जाएगा।

चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग के मुताबिक, चीन में इस विषाणु के कारण शुक्रवार को 86 लोगों की मौत हो गई। इनमें से 81 लोगों की मौत हुबेई प्रांत और उसकी प्रांतीय राजधानी वुहान में हुई। इसके अलावा हीलॉन्गजियांग में दो, बीजिंग, हेनान आौर गांन्सु में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर