कोरोना के कहर के बीच चीन में Dog Meat Festival, खा जाते हैं हजारों कुत्ते, हो रहा चौतरफा भारी विरोध

दुनिया
रवि वैश्य
Updated Jun 21, 2021 | 17:02 IST

China Dog Meat Festival:चीन के यूलिन (Yulin) प्रांत में 10 दिनों तक चलने वाला डॉग मीट फेस्टिवल  शुरू हो गया है कोरोना संकट के बीच इसका भारी विरोध हो रहा है।

meat festival in yulin guangxi zhuang
चीन में डॉग फेस्टिवल का आयोजन 

मुख्य बातें

  • डॉग मीट फेस्टिवल चीन के Yulin प्रांत में 10 दिनों तक मनाया जाता है
  • इस दौरान कई हजार कुत्तों को बहुत ही बेरहमी के साथ मौत के घाट उतारा जाएगा
  • सेलर्स कुत्तों को काटकर बकरों की तरह दुकानों पर लटकाना शुरू कर देते हैं

दुनिया कोरोना (Coronavirus) महामारी की दूसरी लहर की चपेट में है और तीसरी लहर का चेतावनी भी जारी की जा चुकी है, आरोप थे कि विश्व को इस संकट में झोंकने का जिम्मेदार चीन है और खुद वो भी इस विभीषिका से बच नहीं सका। इसके बाद भी चीन इस सबसे बेपरवाह है और वो सबकुछ कर रहा है जो सामान्य दिनों में चीन में होता आय़ा है, हम बात कर रहे हैं चीन के डॉग मीट फेस्टिवल (Dog Meat Festival) की जो वहां शुरू हो गया है, हालांकि इसका भारी विरोध भी हो रहा है लेकिन चीन इस सबसे बेपरवाह है।

डॉग मीट फेस्टिवल बेहद ही क्रूरता के साथ चीन के यूलिन (Yulin) प्रांत में 10 दिनों तक मनाया जाता है, एक अनुमान के मुताबिक बताते हैं कि इन 10 दिनों में कई हजार कुत्तों को बहुत ही बेरहमी के साथ मौत के घाट उतारा जाएगा और वो भी सब कुछ होगा महज स्वाद की खातिर...

गौर हो कि चीन के लोगों की ईटिंग हैबिट (Eating Habits) को लेकर अक्सर ही सवाल उठते रहते हैं, पिछले साल कोरोना वायरस के प्रसार के वक्त भी अंदाजा लगाया गया था कि चमगादड़ खाने की वजह से ही वायरस फैला होगा मगर चीन के लोग अपनी आदतों से बाज नहीं आते हैं।

Dogs को बड़ी बेरहमी से काटकर उसे लटका देते हैं उल्टा

मीडिया रिपोर्टों की मानें तो यूलिन में दूसरे प्रांतों से यहां बड़े पैमाने पर कुत्ते लाये जा रहे हैं, जिन्हें फेस्टिवल के नाम और चीनी लोगों के स्वाद के नाम पर बड़ी ही बेरहम मौत दी जाती है, और मांस विक्रेता लोगों को आकर्षित करने के लिए कुत्तों को काटकर बकरों की तरह दुकानों पर लटकाना शुरू कर देते हैं ताकि कस्टमर उस ओर आकर्षित हों और उनकी सेल बढ़े।

'डॉग मीट फेस्टिवल' को लेकर हो रहा भारी विरोध

पशु अधिकार समूह ह्यूमेन सोसाइटी इंटरनेशनल (Humane Society International) के चाइना पॉलिसी एक्सपर्ट डॉ पीटर ली ने कहा कि COVID-19 के नए मामलों के बावजूद इस तरह के फेस्टिवल की मंजूरी बहुत भारी पड़ सकती है उन्होंने कहा कि फेस्टिवल में बड़े पैमाने पर लोग जुटेंगे, जिससे संक्रमण फैलने का खतरा बना रहेगा और कुत्ते का मांस खाकर वो उस खतरे को और बढ़ाने का काम करेंगे। डॉग मीट फेस्टिवल को लेकर दुनियाभर की पशुप्रेमी संस्थाएं इसपर सवाल करने लगीं इसके बाद भी फेस्टिवल पर फर्क नहीं पड़ रहा है।

कुत्तों को मौत तक तमाम प्रताड़नाओं  से गुजरना होता है

बताते हैं कि मीट व्यापारी सड़क से ही आवारा कुत्ते उठा लेते हैं या फिर कई बार इन्हें चुरा लिया जाता है इसके बाद कुत्तों को लोहे के पिंजरों में डाल दिया जाता है और इन्हें कई दिनों तक भूखा रखा जाता है, इनकी हत्या करने के बाद इनके शरीर का मीट मार्केट में टांग दिया जाता है, यूलिन डॉग मीट फेस्टिवल चीन में हर साल मनाया जाता है इसकी शुरुआत 2010 में हुई थी।

कुत्तों को जिंदा भूनकर खाया जाता है

इस फेस्टिवल के लिए चीन के दूर-दराज से भी लोग आते हैं यहां तक कि आसपास के सारे होटल बुक हो जाते हैं, 10 दिनों तक चलने वाले इस फेस्टिवल में कुत्तों को जिंदा भूनकर खाया जाता है, जिसमें हजारों कुत्ते मारे जाते हैं।

(फोटो-istock)

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर