पाकिस्तान: एक और हिंदू लड़की का किया गया अपहरण, जबरन कराया धर्म परिवर्तन

दुनिया
Updated Sep 24, 2019 | 16:08 IST | टाइम्स नाउ ब्यूरो

पाकिस्तान के सिंध में एक और हिंदू लड़की का अपहरण किया गया है और जबरन उसका धर्म परिवर्तन कराया गया है।

Pakistan
पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर अत्याचार 

मुख्य बातें

  • पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों को बनाया जाता है निशाना
  • सिंध प्रांत में कई हिंदू लड़कियों का हुआ अपहरण
  • अपहरण कर इन लड़कियों का जबरन धर्म परिवर्तन कराया गया

नई दिल्ली: पाकिस्तान के सिंध से एक और हिंदू लड़की के अपहरण की खबर आई है। मुस्लिम पुरुषों द्वारा लड़की का अपहरण किया गया बलपूर्वक उसका धर्म परिवर्तन कराया गया। लड़की के माता-पिता विरोध कर रहे हैं और रो रहे हैं। पिछले 1 महीने में इस तरह का ये तीसरा मामला है। 

हाल ही में पाकिस्तान के सिंध प्रांत में मेडिकल छात्रा निमरिता चंदानी की संदिग्ध अवस्‍था में मौत हो गई। उसका शव हॉस्‍टल में चारपाई पर पड़ा मिला था। उसकी गर्दन में रस्‍सी भी बंधी थी। यह घटना सिंध प्रांत के लरकाना जिले में हुई। इस घटना के बाद पाकिस्‍तान में लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। न्‍याय की मांग को लेकर कराची में लोग सड़कों पर उतर आए।

 

 

उससे पहले सिंध के ही घोटकी जिले में एक हिंदू शिक्षक पर महज 14 साल के उनके ही एक छात्र ने ईशनिंदा का आरोप लगाया था, जिसके बाद वहां कई धार्मिक संगठनों ने बंद बुलाया। इस दौरान जगह-जगह जुलूस निकाले गए तो प्रदर्शनकारियों ने स्कूल की इमारत और स्कूल मालिक के घर पर भी हमला कर दिया। 

पाकिस्तान में हिंदू लड़की को अगवा करके किसी मुस्लिम युवक से शादी कराने से पहले जबरदस्ती इस्लाम कबूल कराने के कई मामले सामने आते रहते हैं।

इसी महीने की शुरुआत में खबर आई थी कि सिंध प्रांत में एक हिंदू लड़की को कथित तौर पर अगवा करके उसे इस्लाम में धर्मांतरित कराने मामला सामने आया था। लड़की को 29 अगस्त को सुक्कूर के इंस्टीट्यूट ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन से अगवा किया गया। इसके बाद जबरन धर्मांतरण के विरोध में हिंदू समुदाय के नेता और अन्य लोगों ने सिंध में विरोध प्रदर्शन किया था। उससे पहले 19 साल की एक सिख लड़की को अगवा कर उसे इस्लाम में धर्मांतरित कर एक मुसलमान युवक से उसका विवाह करा दिया गया था।

अगली खबर