कभी कीड़े का खून लगाकर अपने होठों को सजाती थीं महिलाएं, ऐसा है लिपस्टिक का इतिहास

Jul 30, 2022
By: Aditya Sahu

मेकअप के लिए लिपस्टिक जरूरी आइटम

मेकअप में एक जरूरी आइटम लिपस्टिक होती है, जिसके बिना सोलह श्रृंगार भी अधूरा लगता है।

Credit: social-media

जमाने के साथ बदली लिपस्टिक

होठों को लाल रंग की लिपस्टिक से सजाना तो सामान्य सी बात है। लेकिन जमाना बीतने के साथ लिपस्टिक में भी काफी बदलाव देखने को मिला है।

Credit: social-media

ऐसे हुई होठों को सजाने की शुरुआत

सबसे पहले सुमेरियन सभ्यता के लोगों ने होठों को सजाने की शुरुआत की। तब वह होठों पर लगाई जाने वाली लिपस्टिक प्राकृतिक संसाधनों से बनाते थे।

Credit: social-media

कीमती रत्नों की लिपस्टिक

सुमेरियन महिलाओं ने सबसे पहले हीरा, पन्ना और नीलम जैसे कीमती रत्नों को पीसकर अपने होंठो पर लगाना शुरू किया।

Credit: social-media

फल के रस को लिपस्टिक की तरह लगाया

कीमती रत्नों के अलावा फलों और पत्तों के रस को पीसकर भी सुमेरियन सभ्यता की महिलाएं अपने होठों पर लगाती थीं।

Credit: social-media

कीड़े के खून से होंठों को सजाया

आपको जानकर हैरानी होगी कि मिश्र की रानी क्लियोपेट्रा ने कीड़े मारकर उनके खून से अपने होंठों को सजाना शुरू किया था।

Credit: social-media

सिंधु घाटी सभ्यता की महिलाओं ने ऐसे सजाए होठ

प्राचीन सिंधु घाटी सभ्यता की महिलाओं ने गेरू के आयताकार टुकड़ों का इस्तेमाल लिपस्टिक के रूप में किया।

Credit: social-media

शुरू में ग्रीस की वेश्याएं ही रंगती थीं होठ

प्राचीन ग्रीस में शुरू में वेश्याएं ही अपने होठ रंगती थीं, लेकिन 700 और 300 ईसापूर्व उच्च वर्ग तक लिपस्टिक का विस्तार हुआ।

Credit: social-media

इस स्टोरी को देखने के लिए थॅंक्स

अगली स्टोरी: इन फोटोज को नहीं देखा तो क्या देखा? इन्हें देखने के बाद सब भूल जाएंगे

ऐसी और स्टोरीज देखें