किसी नर्क से कम नहीं है यह जेल, यहां जाने वाला कैदी खुद करता है अपने मरने की दुआ!

Jul 20, 2022
By: Aditya Sahu

रवांडा में Gitarama नाम की जेल

अफ्रीका महाद्वीप के रवांडा में Gitarama नाम की एक जेल है, जहां जाने वाला अपराधी खुद अपने मौत की दुआ मांगता है। यह जेल किसी नर्क से कम नहीं है। यहां जाने की बात सुनकर भी कैदी कांपने लगते हैं।

Credit: SOCIAL-MEDIA

भूसे की तरह भरे हैं कैदी

Gitarama जेल में जरूरत से कई गुना ज्यादा कैदी भूसे की तरह भरे हुए हैं। जेल में 600 कैदियों की जगह है, लेकिन 7,000 से भी ज्यादा कैदी होने की वजह से कैदियों को खड़े-खड़े दिन गुजारना पड़ता है।

Credit: SOCIAL-MEDIA

हर रोज 6 कैदियों की होती है मौत

आलम यह है कि इस जेल में कई कैदियों को टॉयेलट में ही सोना पड़ता है। हर रोज यहां कम से कम 6 कैदियों की जान घुटन की वजह से चली जाती है।

Credit: SOCIAL-MEDIA

मरने पर खा जाते हैं एक-दूसरे के शव

कैदियों के लिए इस जेल में ना ढंग के खाने की व्यवस्था है और ना ही पानी पीने की। यहां तक कि जेल में भुखमरी से ऐसे हालात पैदा हो जाते हैं कि किसी कैदी के मरने पर अन्य कैदी उसका शव खा जाते हैं।

Credit: SOCIAL-MEDIA

जिंदा लोगों का मांस नोंचकर खाते हैं कैदी

इससे भी ज्यादा खौफनाक यह है कि कैदियों को जब कई दिन तक खाने के लिए नहीं मिलता तो वह अपने में से ही जिंदा कैदी का मांस खाने के लिए उसका शरीर नोंचने लगते हैं।

Credit: SOCIAL-MEDIA

जेल नहीं नरक

Gitarama जेल को दुनिया की सबसे खौफनाक जेल माना जाता है। यह जेल नहीं बल्कि नरक है।

Credit: SOCIAL-MEDIA

ब्रिटिश श्रमिकों के आराम के लिए बनाई गई थी बिल्डिंग

Gitarama जेल की बिल्डिंग को साल 1960 में बिट्रिश श्रमिकों के आराम के लिए बनाया गया था। हालांकि बाद में कैदियों को रखने के लिए जेल के रूप में तब्दील कर दिया गया।

Credit: SOCIAL-MEDIA

रवांडा में हुआ था भीषण नरसंहार

आपको जानकर हैरानी होगी कि 1990 के दशक के मध्य में इस जेल में 50 हजार से ज्यादा कैदी बंद थे। उस समय रवांडा में भीषण नरसंहार हुआ था।

Credit: SOCIAL-MEDIA

जेल जाने की बजाय मौत चाहते हैं कैदी

Gitarama जेल प्रशासन कैदियों को इलाज की सुविधा ही उपलब्ध नहीं करवाता है। अपराधी सोचते हैं कि उन्हें मौत की सजा दे दी जाए, लेकिन Gitarama जेल नहीं जाना पड़े।

Credit: SOCIAL-MEDIA

मल पर खड़े होने की वजह से सड़ जाते हैं पैर

जेल में 41 फीसदी बीमार कैदी इस वजह से अस्पताल पहुंचते हैं, क्योंकि उनको जमीन पर बिखरे मल पर नंगे पैर खड़ा रहना पड़ता है। इसके कारण उनके पैर सड़ जाते हैं।

Credit: SOCIAL-MEDIA

इस स्टोरी को देखने के लिए थॅंक्स

अगली स्टोरी: खतरनाक दांत के बावजूद शिकार को केवल निगलता है मगरमच्छ, दिलचस्प है कारण

ऐसी और स्टोरीज देखें