हिंदुस्तान का दिल: मध्य प्रदेश

Jan 25, 2021
By: Shivam Pandey

बड़ी है विरासत

मध्य प्रदेश को हिंदुस्तान का दिल भी कहा जाता है। ये प्रदेश खुद में कई आध्यात्मिक और ऐतिहासिक विरासत समेटे हैं। हर साल देश विदेश से यहां लोग घूमने आते हैं।

Credit: istock

भोपाल

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल न सिर्फ स्वच्छता बल्कि टूरिस्टों की पसंदीदा जगह है। भोपाल में बड़ा तलाब, भिंबेटका, कान्हा नेशनल पार्क और भोजपुर जैसी कई स्पॉट हैं।

Credit: istock

ग्वालियर

मध्य प्रदेश के राज्य ग्वालियर राजा-महाराजाओं की विरासत देखने को मिलेगी। ग्वालियर का किला, सास बहू मंदिर जैसे कई स्पॉट को देखने पर्यटक आते हैं।

Credit: istock

पंचमढ़ी

इस पर्वतीय पर्यटक स्थल को सतपुड़ा की रानी भी कहा जाता है। वीड‍ियो में पंचमढ़ी का बी फॉल है।

Credit: Zoom

जबलपुर

मध्य प्रदेश का जबलपुर शहर प्राकृतिक भव्यता से भरा हुआ है। नर्मदा नदी के किनारे बसा यह शहर प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर है, जो ग्रेनाइट और बलुआ पत्थर की पहाडि़यों से घिरा हुआ है।

Credit: istock

ओरछा

पहाड़ों की गोद में बसा और झांसी से 16 किमी की दूरी पर स्थित ओरछा का नाम इसकी खासियत को झलकता है। ओरछा का मतलब होता है गुप्त स्थान। इस जगह पर राज-महाराजाओं के किस्से खुलकर आ जाएगी।

Credit: istock

उज्जैन

मध्य प्रदेश में ही महाकाल की नगरी उज्जैन है। यहां पर 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक ज्योतिर्लिंग स्थित हैं। उज्जैन में ही क्षिप्रा नदी बहती है।

Credit: istock

ओंकारेश्वर

मध्य प्रदेश में ही दूसरा ज्योतिर्लिंग ओंकारेश्वर भी हैं। इस मंदिर में शिव भक्त कुबेर ने तपस्या की थी तथा शिवलिंग की स्थापना की थी।

Credit: istock

सांची का स्तूप

रायसेन जिले में स्थित सांची स्मारकों और बौद्ध स्तूपों के लिए प्रसिद्ध है। इसे शांति, पवित्रता, धर्म और साहस का प्रतीत माना जाता है। सम्राट अशोक ने इसका निर्माण बौद्ध धर्म के प्रचार-प्रसार के लिए कराया था।

Credit: istock

मांडू

मध्य प्रदेश के मांडू को एक रहस्यमयी नगरी के रूप में भी जाना जाता है। यहां मौजूद जहाज महल और हिंडोला महल इसको और भी खास बनाता है।

Credit: istock