यंग वीरू: श्रेयस अय्यर

By: Shivam Pandey
Dec 16, 2020

वीरेंद्र सहवाग जैसा अंदाज

श्रेयस अय्यर धीरे-धीरे टीम में अपनी जगह पक्की कर रहे हैं। श्रेयस अय्यर के खेलने का अंदाज बिल्कुल वीरेंद्र सहवाग जैसा है। इसी कारण उन्हें यंग वीरू भी कहा जाता है।

Credit: Instagram

पिता एक बिजनेसमैन

श्रेयस अय्यर का जन्म 6 दिसंबर 1994 को हुआ। उनके पिता संतोष अय्यर एक बिजनेसमैन हैं। वहीं, उनकी मम्मी एक हाउसवाइफ हैं।

Credit: Instagram

लगवा दी क्रिकेट कोचिंग

श्रेयस के पिता संतोष अय्यर ने कम उम्र में क्रिकेट के प्रति बेटे की दिलचस्पी देख ली थी। ऐसे में उन्होंने जल्दी ही श्रेयस की क्रिकेट कोचिंग लगवा दी थी।

Credit: Instagram

46 बॉल में सेन्चुरी

8 साल की उम्र में श्रेयर अय्यर ने इंडियन जिमखाना में 46 बॉल में सेन्चुरी लगा दी थी। 12 साल की उम्र में मुंबई के शिवाजी पार्क जिमखाना में क्रिकेट खेलते हुए पूर्व भारतीय अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी प्रवीण आमरे की नजर उन पर पड़ी।

Credit: Instagram

​प्रवीण आमरे ने दी कोचिंग

प्रवीण आमरे ने श्रेयस अय्यर को कोचिंग देने का फैसला किया। श्रेयस ने अपना पहला मैच 2014—15 के रणजी ट्राफी टूर्नामेंट के दौरान मुंबई टीम की ओर से खेला था।

Credit: Instagram

टी20 टीम में हुए शामिल

श्रेयस अय्यर ने पूरे टूर्नामेंट में 50.56 के औसत से 803 रन बनाये थे। इनमें 2 शतक और 6 अर्द्धशतक शामिल है। अक्टूबर 2017 में श्रेयस अय्यर को न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 सीरीज में भारतीय टीम में शामिल किया गया।

Credit: Instagram

​नहीं मिला बल्लेबाजी का मौका

श्रेयस अय्यर को अपने पहले मैच में बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला। श्रेयस को राजकोट में खेले गए दूसरे टी20 मुकाबले में बल्लेबाजी का मौका मिला और उन्होंने 21 गेंदों पर 23 रनों की पारी खेली

Credit: Twitter

2017 में किया वनडे डेब्यू

श्रेयस ने वनडे करियर की शुरुआत 2017 में श्रीलंका के खिलाफ की थी। पहले मैच में वह विफल रहे। हालांकि, अपने दूसरे मैच में उन्होंने 66 रन की पारी खेली।

Credit: Zoom

दिल्ली कैपिटल्स के खिलाड़ी

आईपीएल में श्रेयस अय्यर साल 2015 से ही दिल्ली कैपिटल्स की तरफ से खेल रहे हैं।

Credit: Instagram

टीम के कप्तान

साल 2018 में गौतम गंभीर के संन्यास लेने के बाद श्रेयस अय्यर को टीम का कप्तान बनाया गया।

Credit: Instagram

Discover these and more on www.timesnowhindi.com