सायना नेहवाल- जानें इस बेडम‍िंटन ख‍िलाड़ी को करीब से

By: Shivam Pandey
Jun 13, 2020

बेडमिंटन को पहुंचाया ऊंचे मुकाम पर

भारतीय बैडमिंटन को नई ऊंचाई में पहुंचाने का क्रेडिट किसी एक प्लेयर को जाएगा तो वह हैं सायना नेहवाल। सायना नेहवाल ओलंपिक से लेकर कॉमनवेल्थ गेम्स में देश का झंडा ऊंचा कर चुकी हैं।

Credit: instagram

माता-पिता भी हैं प्लेयर

सायना नेहवाल के पिता हरवीर सिंह आईसीएआर में कृषि वैज्ञानिक हैं। उनके पिता और मां ऊषा नेहवाल भी बैडमिंटन के बेहतरीन खिलाड़ी रहे हैं।

Credit: instagram

ओलम्पिक 2012 में जीता था कांस्य

सायना ने लंदन ओलम्पिक 2012 में महिला सिंगल वर्ग में कांस्य पदक जीता था। ऐसा करने वालीं वह देश की पहली महिला बेडमिंटन खिलाड़ी हैं।

Credit: Zoom

कराटे में हैं ब्राउन बेल्ट

सायना नेहवाल ने बेडमिंटन के अलावा कराटे में ब्राउन बेल्ट भी हैं। इसके अलावा साइना को टेनिस खेलना भी पसंद है।

Credit: instagram

कॉमनवेल्थ गेम्स में जीता था मेडल

सायना नेहवाल ने साल 2010 में भारत में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में साइना ने महिला सिंगल वर्ग का गोल्ड मेडल हासिल किया था।

Credit: instagram

छोड़ दिया था एग्जाम

सायना ने बैडमिंटन के लिए अपने जूनून के खातिर दो बार 12वीं क्लास का एग्जाम छोड़ दिया था।

Credit: instagram

दादी ने नहीं देखी शक्ल

सायना नेहवाल की दादी चाहती थी कि उनके घर में पोता पैदा हो। बेटी के जन्म के बाद चार महीने तक दादी ने उनका चेहरा नहीं देखा।

Credit: instagram

2018 में की थी शादी

सायना नेहवाल ने साल 2018 में बेडमिंटन प्लेयर परूपल्ली कश्यप से शादी रचाई थी। इस शादी में खास रिश्तेदार समेत केवल 40 लोग ही शामिल हुए थे।

Credit: istock

10 साल में पहली मुलाकात

सायना ने बताया कि वह साल 2000 में पहली बार हेदराबाद में एक कैंप के दौरान परूपल्ली कश्यप से मिली। तब उनकी उम्र 10 साल थी।

Credit: instagram

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार

सायना नेहवाल पद्म भूषण, अर्जुन पुरस्कार और राजीव गांधी खेल रत्न जीत चुकी हैं। सायना के कोच पुलेला गोपीचंद हैं।

Credit: instagram