जीरो से हीरो बनने वाले 4 क्रिकेटर

By: Mohd Akram
Aug 31, 2021

शून्य से सफलता की बुलंदी

क्रिकेट में कई ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने करियर की शुरुआत शून्य से की और फिर सफलता के झंडे गाड़े। क्या आप वनडे में 'जीरो' से 'हीरो' बनने वाले इन चार क्रिकेटर के बारे में जानते हैं।

Credit: Twitter

सचिन तेंदुलकर

भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर को 'क्रिकेट का भगवान' कहा जाता है। शायद आप यह जानकर हैरान रह जाएं कि सचिन अपने पहले वनडे में शून्य पर आउट हुए थे।

Credit: Zoom

सचिन 2 गेंद में आउट

सचिन ने 1989 में पाकिस्तान के खिलाफ वनडे डेब्यू किया था। वह दो गेंदें खेलकर वकार यूनुस का शिकार बन गए थे। सचिन ने अपने करियर में 18426 वनडे रन बनाए।

Credit: Twitter

महेंद्र सिंह धोनी

पूर्व भारतीय क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी का शुमार वनडे क्रिकेट (10773 रन) के सबसे कामयाब खिलड़ियों में होता है। हालांकि, धोनी का वनडे डेब्यू जीरो के साथ हुआ था।

Credit: Twitter

धोनी हुए रन आउट

धोनी ने साल 2004 में श्रीलंका के विरुद्ध पहला वनडे खेला था। वह महज 1 गेंद खेलने के बाद रन आउट हो गए थे।

Credit: Twitter

केन विलियमसन

न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन 47.49 की औसत से 6174 वनडे रन बना चुके हैं। विलियमसन का करियर भी शून्य से शुरू हुआ था।

Credit: Twitter

9 गेंद में रन नहीं बना

विलियमसन ने साल 2010 में भारत के खिलाफ वनडे डेब्यू किया था। उन्हें प्रवीण कुमार ने बोल्ड कर पवेलियन भेजा था। विलियमसन ने 9 गेंदें खेली थीं।

Credit: Twitter

​शिखर धवन

शिखर धवन इस वक्त वनडे के सबसे धाकड़ ओपनर में से एक हैं। हालांकि, उनके करियर का आगाज जीरो के साथ हुआ था।

Credit: Twitter

क्‍या है औसत

श‍िखर धवन 45.56 की औसत से 6105 रन बना चुके हैं।

Credit: Zoom

धवन बने मैकॉय का शिकार

धवन ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहला मैच खेला और क्लिंट मैकॉय की गेंद पर बोल्ड हो गए थे। उन्होंने सिर्फ दो गेंदों का सामना किया था।

Credit: Twitter