पुरानी द‍िल्‍ली के ये 11 स्‍वाद, आप बार-बार करेंगे याद

Apr 17, 2020

By: मेधा चावला

फूडीज का ठ‍िकाना

मीठा या नमकीन, वेज या नॉन वेज, स्‍नैक्‍स या मेन कोर्स - पुरानी द‍िल्‍ली में हर स्‍वाद का ऑप्‍शन मौजूद है।

Credit: Zoom

रसीली जलेबी

शीशगंज गुरुद्वारे के पास अगर जलेब‍ियों की मिठास का स्‍वाद नहीं ल‍िया तो समझ लें क‍ि पुरानी द‍िल्‍ली में आपने कदम ही नहीं रखा।

Credit: Shutterstock

कबाब

लखनऊ के बाद कहीं कबाब का असली स्‍वाद लेना चाहते हैं तो वो पुरानी द‍िल्‍ली की गल‍ियां ही हैं। तो कब प्‍लान बना रहे हैं आप !

Credit: Shutterstock

नान खटाई

इनको आप देसी कुकीज भी कह सकते हैं और रेहड़ी पर ये कई जगह पर आपको स‍िकते नजर आएंगे। जब जाएं तो ये स्‍वाद भी लें।

Credit: Shutterstock

कुल्‍फी

मलाईदार कुल्‍फी का स्‍वाद आप ऐसे ही लें या फ‍िर फलूदा के साथ - जीभ का इसके लिए लपलपाते रहना एकदम तय है।

Credit: Shutterstock

दौलत की चाट

दूध और क्रीम को फेंट कर ये नवाबी स्‍वाद तैयार होता है। आपको ऐसा लगेगा जैसे आपने बादलों का स्‍वाद ल‍िया हो!

Credit: Instagram

ठंडी लस्‍सी

ठंडी मलाईदार लस्‍सी के दीवाने पुरानी द‍िल्‍ली में दूर दूर से ख‍िंचे चले आते हैं।

Credit: Shutterstock

दही भल्‍ले

ठंडी दही और इमली की चटनी के साथ दही भल्‍लों का टेस्‍ट और लुक दोनों ही आपको चांदनी चौक में कदम रखते के साथ ही बुला लेगा।

Credit: Istock

हर द‍िल अजीज पराठे

पराठे वाली गली का खाना जब तक आप चख न लें, तब तक फूडी नहीं कहलाएंगे। यहां परोसे जाना वाला अचार भी खूब जायकेदार होता है।

Credit: Twitter

गोलगप्‍पे

दही भरे या चटपटे पानी के साथ - आप कैसे भी खाएं लेक‍िन स्‍वाद का अर्से तक याद रखेंगे।

Credit: Istock

आलू ट‍िक्‍की

इमली की चटनी और दही के साथ आलू की ट‍िक्‍की का यहां जायका ही और है। पूरी द‍िल्‍ली घूम लें, ये टेस्‍ट कहीं और नहीं मिलेगा।

Credit: Shutterstock

कुरकुरी कचौड़ी

कचौड़ी को चार टुकड़ों में तोड़कर धुआं न‍िकलती गर्मागर्म आलू की सब्‍जी आपकी डाइट‍िंग के रूल हर आउट‍िंग पर तोड़ेगी!

Credit: Shutterstock