दांतों को मजबूत रखने के ट‍िप्‍स

Oct 13, 2021
By: Shivam Pandey

सबसे अहम अंग दांत

दांत शरीर के सबसे अहम अंग में से एक हैं। यही वजह है कि रोजाना सुबह उठकर सबसे पहले ब्रश किया जाता है। लेकिन, केवल ब्रश करने से ही दांतों को स्वस्थ नहीं रखा जा सकता है।

Credit: istock

फल खाएं

कच्‍चे फल खाने से जरूरी न्‍यूट्र‍िएंट्स तो मिलते हैं, साथ में दांतों की एक्‍सरसाइज भी होती है।

Credit: Zoom

ब्लूबेरी

दांतों की मजबूती के लिए ब्लूबेरी फल का सेवन रोज करें। यह एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो हमारे शरीर को बैक्टीरिया से बचाने का काम करता है। ब्लूबेरी का सेवन करने से दांतों के सड़न को रोका जा सकता है।

Credit: istock

कैल्शियम की कमी

कैल्शियम की कमी की वजह से दांतों में सड़न हो सकती है। शरीर में कैल्शियम की मात्रा बढ़ाने के लिए मिल्क प्रोडक्ट्स, सिंहपर्णी के पत्ते, ब्रोकली, पालक जैसे फूड्स का सेवन करें।

Credit: istock

दांतो का पीलापन

आप यदि पीले काले दांतो से परेशान हैं तो सरसो का तेल और नमक का इस्तेमाल करें। यह ना केवल आपके दांतो का पीलापन दूर करता है बल्कि मुंह में मौजूद बैक्टीरिया को भी खत्म करता है।

Credit: istock

पानी

पानी अधिक पीने से मुंह के अंदर मौजूद एसिड व शुगर को खत्म करने में मदद मिलती है। इसके अलावा पानी में फ्लोरइड भी पाया जाता है जो दांतों को मजबूत बनाता है।

Credit: istock

तीन बार करें कुल्ला

दांतों से खून पेरिया की बीमारी भी को दर्शाता है। इस समस्या को दूर करने के लिए यदि आप 1 गिलास गर्म पानी में 1 ग्राम फिटकरी और एक चुटकी सिंधा नमक को मिलाकर दिन में कम से कम 3 बार कुल्ला करें।

Credit: istock

नट्स

अखरोट, बादाम, मूंगफली जैसे नट्स में प्रचुर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है जो दांतों की सुरक्षा व मजबूती के लिए मददगार होते हैं। इनमें मैग्नीशियम, फास्फोरस, जिंक व कैल्शियम भी भारी मात्रा में पाया जाता है ।

Credit: istock

​ग्रीन टी

ग्रीन टी में कैटेचिन नामक एक पदार्थ पाया जाता है जो दांतों व मसूड़ों में होने वाले सूजन को कम करने में मददगार होता है। नियमित ग्रीन टी पीने की आदत डाल ली जाए तो इससे दांतों में व इसके आस-पास होने वाली बीमारियों से भी छुटकारा मिलता है।

Credit: istock

तुलसी

तुलसी को मुंह में लेने से संक्रमण से बचे रहते हैं और इससे बैक्टीरिया कम होते हैं। इस तरह दांतों में प्लाक, मुंह में बदबू, कैविटी की समस्या नहीं होती है और इससे दांत मजबूत ही बने रहते हैं।

Credit: istock

इस स्टोरी को देखने के लिए थॅंक्स

अगली स्टोरी: खाली पेट लहसुन खाने के फायदे