जानिए प्रोबायोटिक्स के फायदे

Aug 20, 2021
By: Shivam Pandey

खमीरयुक्त खाद्य पदार्थ

प्रोबायॉटिक युक्त आहार खाना आपको वजन कम करने, पाचन क्रिया और इम्युनिटी को बढ़ाने में मदद करता है। प्रोबायोटिक्स जीवित बैक्टीरिया होते हैं, ये खमीरयुक्त खाद्य पदार्थों में पाए जाते हैं।

Credit: istock

वजन घटाने में मददगार

प्रोबायोटिक्स खाने से आपको अपना पेट लंबे समय तक भरा हुआ महसूस होता है। इस कारण ये वजन घटाने में मददगार होते हैं। ये आपकी कैलरी को बर्न करने में भी मदद करते हैं।

Credit: istock

​पाचन तंत्र संबंधी बीमारी

पाचन तंत्र संबंधी इंफ्लेमेटरी बाउल डिजीज , अल्सरेटिव कोलाइटिस और क्रोन रोग की समस्या को हल करने में प्रोबायोटिक्स काफी मदद करता है।

Credit: istock

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए

प्रोबायोटिक्स, रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने वाली कोशिकाएं जैसे आईजीए और टी-लिम्फोसाइट्स को बढ़ाने में मदद करते हैं।

Credit: Zoom

दही

डेयरी से जुड़े सभी प्रॉडक्ट्स जैसे, दूध, दही व कुछ प्लांट्स में प्रोबायॉटिक पाए जाते हैं। खासकर दही में प्रोबायोटिक के दूसरे प्रकार के बीफीडोबैक्टीरियम होते हैं। घर का बना दही बाजार के बने दही से ज्यादा फायदेमंद होता है।

Credit: istock

​डार्क चॉकलेट

डार्क चॉकलेट प्रोबायोटिक का बेहतर स्त्रोत मानी जाती है। डार्क चॉकलेट में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। ये शरीर में “फ्री रेडिकल्स' को कम करते हैं।

Credit: istock

अचार

अचार में काफी मात्रा में प्रोबायोटिक्स होते हैं। घर के मुकाबले बाजार के आचार को बनाने के दौरान प्राकृतिक एंजाइम नष्ट हो जाते हैं।

Credit: istock

सेब

फलों में सेब प्रोबियोटिक से भरपूर है। सेब में मौजूद प्रोबियोटिक बैक्टीरिया पीएच स्तर को भी नियंत्रित करते हैं, जिससे शरीर में सुक्ष्म जीवों का स्तर उत्तम रहता है।

Credit: istock

​सोया मिल्क

सोया मिल्क, जैतून, इडली, डोसा, ढोकला, चीज और पनीर आदि में प्रोबियोटिक बैक्टीरिया होता है।

Credit: istock