100 रोगों की एक दवा आंवला!

By: Shivam Pandey
Aug 5, 2020

कई चमत्कारिक गुण

आंवला भले ही स्वाद में कड़वा होता है, लेकिन इस छोटे से फल में कई चमत्कारिक गुण हैं। आंवला को 100 रोगों की एक दवा तक माना गया है। ये न सिर्फ बीमारी को जड़ से खत्म करता है बल्कि इम्युनिटी भी बढ़ाता है।

Credit: shutterstock

विटामिन C, विटामिन AB कॉम्‍प्‍लेक्‍स

आंवला में विटामिन C, विटामिन AB कॉम्‍प्‍लेक्‍स, पोटैश‍ियम, कैलशियम, मैग्‍नीशियम, आयरन, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर और डाययूरेटिक एसिड जैसे तत्व पाए जाते हैं।

Credit: shutterstock

डायबिटीज में देता है राहत

आंवला डायबिटीज के मरीजों के लिए बहुत काम की चीज है। डायबिटीज से पीड़ि‍त व्यक्ति अगर आंवले के रस को शहद के साथ मिलाकर रोजाना सेवन करे तो इस बीमारी से राहत मिलती है।

Credit: shutterstock

एसिडिटी में भी फायदेमंद

आंवले के पाउडर को चीनी के साथ मिलाकर पीने या खाने से एसिडिटी से तुरंत राहत मिलती है। आंवले का जूस पेट की समस्या को तुरंत ठीक कर देता है।

Credit: Zoom

पथरी के लिए भी बेहद कारगर

आंवला पथरी के लिए भी बेहद कारगर है। पथरी के दौरान आंवले का पाउडर को मूली के रस के साथ मिलाकर पीएं। ऐसा करने से पथरी तुरंत गल जाएगी।

Credit: shutterstock

​दिल के मरीजों के लिए फायदेमंद

दिल के मरीजों के लिए भी आंवला काफी फायदेमंद है। आंवला में मौजूद क्रोमियम बीटा ब्लॉकर के प्रभाव को कम करता है। इसके अलावा शरीर में मौजूद खराब कॉलेस्ट्रोल को मिटाकर अच्छा कॉलेस्ट्रोल भी बनाता है।

Credit: shutterstock

फंगल इंफेक्शन को करता है ठीक

आंवला बैक्टीरिया और फंगल इंफेक्शन को भी ठीक करता है। इसके अलावा ये शरीर में मौजूद टॉक्सिन को बाहर निकालकर बॉडी को डी टॉक्स करता है।

Credit: shutterstock

आंखों के लिए भी काफी फायदेमंद

आंवला आंखों के लिए भी काफी फायदेमंद है। ये आंखों की रोशनी बढ़ाता है। इसके अलावा मोतियाबिंद, कलर ब्लाइंडनेस के लिए भी आंवले का रस काफी कारगर है।-

Credit: shutterstock

शरीर में बनाता है रेड ब्लड सेल

खून में हीमोग्लोबिन की कमी होने पर भी रोजाना आंवले के रस का सेवन करना काफी फायदेमंद होता है। यह शरीर में रेड ब्लड सेल बनाने में मदद करता है। इस कारण शरीर में खून की कमी नहीं होती है।

Credit: shutterstock

आंवला सबसे बेहतर उपाय

शरीर में गर्मी बढ़ जाने पर आंवला सबसे बेहतर उपाय है। इसके अलावा हिचकी तथा उल्टी होने पर आंवले के रस को मिश्री के साथ दिन में दो-तीन बार सेवन करने से काफी राहत मिलती है।

Credit: shutterstock

Discover these and more on www.timesnowhindi.com