जानिए ब्लैक कॉफी के ये फायदे और नुकसान

Aug 15, 2020
By: Shivam Pandey

ब्लैक कॉफी के कई फायदे

चाय और कॉफी लगभग हर भारतीय की रोजाना की जिंदगी का हिस्सा है। कॉफी की ही एक वैराइटी है- ब्लैक कॉफी। ये बिना चीनी और दूध के बनती है। स्वाद में ये भले ही कड़वी हो लेकिन इसके कई फायदे हैं।

Credit: shutterstock

मेटाबॉलिज्म 3 से 11 पर्सेंट तक बढ़ जाता है

ब्लैक कॉफी वेट लॉस के लिए सबसे कारगर है। इसमें एंटी ऑक्सिडेंट्स होता है। कॉफी में मौजूद कैफीन से मेटाबॉलिज्म 3 से 11 पर्सेंट तक बढ़ जाता है। इससे बॉडी के एक्स्ट्रा फैट काटने में मदद मिलती है।

Credit: shutterstock

थकान को तुरंत खत्म करता है

ब्लैक कॉफी शरीर से थकान को तुरंत खत्म कर देती है। ब्लैक कॉफी में 60 फीसदी पोषक तत्व, 20 फीसदी विटामिन, 10 प्रतिशत कैलोरी, 10 प्रतिशत मिनरल्स होते हैं। ये शरीर में नई ऊर्जा भर देते हैं।

Credit: shutterstock

टाइप 2 डायबिटीज में करती है मदद

ब्लैक कॉफी टाइप 2 डायबिटीज के रिस्क को भी शरीर से कम करती है। हालांकि, मधुमेह से पीड़ित लोगों को ब्लैक कॉफी का सेवन बिना चीनी के करना चाहिए। इसके अलावा ये याददाशत को भी बढ़ाती है।

Credit: shutterstock

शरीर को करती है डिटॉक्स

ब्लैक कॉफी शरीर को डिटॉक्स करती है। इसे पीने से शरीर में मौजूद टॉक्सिन और बैक्टीरिया शरीर से बाहर निकल जाते है। इससे पेट भी साफ होता है।

Credit: shutterstock

सूजन का स्तर कम होता है

ब्लैक कॉफी दिल के लिए भी बेहद लाभदायक है। कॉफी पीने से शरीर में सूजन का स्तर कम होता है। इससे शरीर हृदय रोगों से बचता है। वहीं, कॉफी में एंटी कैंसर गुण भी होते हैं। ये लीवर कैंसर से 40 फीसदी तक बचाती है।

Credit: shutterstock

फायदे के साथ नुकसान भी

ब्लैक कॉफी के जहां कई फायदे हैं तो नुकसान भी कम नहीं है। ऐसे में इसे पीते वक्त कुछ जरूरी सावधानी बरतनी चाहिए। ब्लैक कॉफी में यदि आप चीनी मिला देते है तो यह कैफीन के असर को कम हो जाता है

Credit: shutterstock

कॉफी पीने का सबसे सही समय

विशेषज्ञों की मानें तो कॉफी पीने का सबसे अच्छा समय सुबह 9:30–11:30 बजे हो सकता है। इस वक्त अधिकांश लोगों का कोर्टिसोल जिसे स्ट्रेस हार्मोन भी कहते हैं, उसका स्तर कम होता है।

Credit: shutterstock

नींद में कमी आ सकती है

ब्लैक कॉफी का ज्यादा सेवन करने से नींद में कमी आ सकती है। इसके अलावा उल्टी होने की समस्या हो सकती है।

Credit: shutterstock

स्ट्रेस हार्मोन को बढ़ा सकता है

कॉफी में मौजूद कैफीन का अधिक सेवन कोर्टिसोल (स्ट्रेस हार्मोन) को बढ़ा सकता है, इससे मानसिक समस्याएं पैदा हो सकती हैं।

Credit: shutterstock

इस स्टोरी को देखने के लिए थॅंक्स

अगली स्टोरी: ये हैं काले नमक के फायदे

ऐसी और स्टोरीज देखें