चाय के शौकीनों के ल‍िए 10 स्‍पेशल फ्लेवर्स

May 1, 2020

By: मेधा चावला

बटर टी

लद्दाख की नमकीन बटर टी को मक्‍खन और क्रीम के साथ तैयार क‍िया जाता है। इसे गुड़ गुड़ चाय भी कहा जाता है।

Credit: Shutterstock

कहवा

केसर की सौंधी महक के साथ कश्‍मीर का कहवा जरूर टेस्‍ट करें। इसका स्‍वाद और खुशबू द‍िल में उतरकर एक अलग ही ताजगी देंगी।

Credit: Shutterstock

सुलेमानी चाय

केरल की प्रस‍िद्ध सुलेमानी चाय हल्‍के सुनहरे रंग की होती है, जिसमें दूध का प्रयोग नहीं किया जाता। नमकीन सुलेमानी चाय भोपाल की भी मशहूर है।

Credit: Shutterstock

ब्‍लैक टी

ये चाय बिना दूध के बनती है। ब्‍लैक टी यानी काली चाय को सेहत के लिए बेहतरीन माना जाता है।

Credit: Zoom

तुलसी चाय

सेहत के लिए तुलसी फायदेमंद होती है। इसका हल्‍का तीखा स्‍वाद जायके में अच्‍छा होने के साथ ही सर्दी जुकाम को भी दूर करता है।

Credit: Shutterstock

मसाला चाय

मसाला चाय का जायका एकदम अलग ही होता है। इसमें अदरक, लौंग, इलायची, सौंफ, चक्रफूल, दालचीनी, काली मिर्च आद‍ि जैसी चीजें खास फ्लेवर लेकर आती हैं।

Credit: Shutterstock

लेमन टी

गर्म या ठंडा - नीबू वाली चाय को मौसम के ह‍िसाब से एंजॉय क‍िया जा सकता है। टेस्‍ट के साथ नीबू से मिलने वाला व‍िटामिन सी भी सेहत और इम्‍यून‍िटी बढ़ाता है।

Credit: Shutterstock

इलायची चाय

इलायची के टेस्‍ट के साथ चाय एकदम रॉयल फील‍िंग देती है। चाय के स्‍वाद के साथ इससे इलायची के हेल्‍थ बेनेफ‍िट्स भी मिलते हैं।

Credit: Shutterstock

अदरक चाय

अदरक के स्‍वाद के साथ चाय अमूमन सभी को पसंद होती है। ठंड के मौसम में ये गले की खराश में भी आराम देती है।

Credit: Shutterstock

रोंगा साह

यह वैरायटी असम में सबसे ज्यादा प्रचलित है। रोंगा चाय का रंग लाल होता है और यह बिना दूध के बनाई जाती है।

Credit: Shutterstock