दिमाग में बिठा लें ITR की ये बातें, वरना लगेगा जुर्माना

May 26, 2022
By: Dimple Alawadhi

किनके लिए जरूरी है आईटीआर?

अगर आपकी इनकम यानी कुल कमाई 2.5 लाख रुपये से ज्यादा है, तो आपको Income Tax Return फाइल करना जरूरी है।

Credit: iStock

सीनियर सिटीजन को छूट

सीनियर सिटीजन को सालाना 3 लाख रुपये से कम की कमाई के मामले में सरकार आईटीआर फाइल करने से छूट देती है।

Credit: iStock

ITR Form में ना करें गलतियां

इनकम टैक्स रिटर्न फॉर्म भरते समय करदाता अक्सर गलतियां कर जाते हैं। ऐसे में आपको कुछ बातों का खास ध्यान रखना चाहिए।

Credit: iStock

गलत ITR फॉर्म

करदाता अक्सर गलत आईटीआर फॉर्म भर देते हैं। कमाई के स्रोत के आधार पर सरकार द्वारा अलग- अलग ITR फॉर्म होते हैं। इनका ध्यान रखें।

Credit: iStock

ई-वेरिफिकेशन है जरूरी

अक्सर करदाताओं को लगता है कि आईटीआर भरने के बाद उनका काम खत्म हो गया है। लेकिन ITR Verification भी जरूरी है।

Credit: iStock

कब तक कर सकते हैं वेरिफिकेशन?

टैक्सपेयर्स को ITR फाइल करने के 120 दिनों के अंदर ही इसका ई-वेरिफिकेशन करना होता है, वरना इसका आपके ITR पर असर पड़ता है।

Credit: iStock

समझ लें टैक्स सिस्टम

टैक्सपेयर्स के पास दो टैक्स सिस्टम मौजूद हैं। आईटीआर भरने से पहले पुराना टैक्स सिस्टम और नया टैक्स सिस्टम अच्छे से समझ लें।

Credit: iStock

क्या है अंतर

पुराने टैक्स सिस्टम में आप डिडक्शन का लाभ उठा सकते हैं, नए टैक्स सिस्टम में आपको इसका लाभ नहीं मिलत है।

Credit: iStock

हो सकती है मुसीबत

आईटीआर फॉर्म में छोटी- छोटी गलतियां आगे चलकर आपको बड़ी मुसीबत में डाल सकती हैं। इसलिए आपको इन गलतियों से बचना चाहिए।

Credit: iStock

इस स्टोरी को देखने के लिए थॅंक्स

अगली स्टोरी: इन बातों का रखें ध्यान,सोना खरीदने में नहीं खाएंगे धोखा