सुख-समृद्धि के लिए मौनी अमावस्या पर करें ये 5 काम

Jan 19, 2023

By: Laveena Sharma

मौनी अमावस्या कब है?

मौनी अमावस्या इस साल 21 जनवरी दिन शनिवार को मनाई जाएगी। इस अमावस्या का हिंदू धर्म में विशेष महत्व माना जाता है।

Credit: iStock

30 साल बाद बन रहा है विशेष संयोग

मौनी अमावस्या पर 30 साल बाद खप्पर योग बन रहा है। खप्पर योग शनि के शुभ प्रभाव के लिए किए जाने वाले उपायों के लिए विशेष फलदायी माना जाता है।

Credit: iStock

मौनी अमावस्या पर करें नदी स्नान

इस दिन गंगा, नर्मदा, सिंधु, कावेरी सहित तमाम पवित्र नदियों में स्नान दान जप अनुष्ठान करना बेहद शुभ होता है।

Credit: iStock

मौन धारण करें

मौनी अमावस्या के दिन मौन धारण करने का चलन है। कहते हैं इस दिन मौन धारण करने से व्यक्ति को विशेष ऊर्जा प्राप्त होती है।

Credit: iStock

दान करें

इस दिन दान-पुण्य करना बेहद शुभ माना जाता है। इस दिन तेल, तिल, सूखी लकड़ी, कंबल, गर्म कपड़े, काले कपड़े, जूते आदि का दान करना शुभ माना जाता है।

Credit: iStock

पितरों का तर्पण करें

इस दिन गंगा स्नान कर पितरों का तर्पण करने से उनकी आत्मा को तृप्ती मिलती है। इसलिए इस दिन पवित्र तीर्थ स्थल पर स्नान कर पितरों का तर्पण करने का विशेष महत्व होता है।

Credit: iStock

पीपल के पेड़ की करें परिक्रमा

मौनी अमावस्या पर भगवान शिव और भगवान विष्णु की पूजा का विशेष महत्व होता है। इस दिन पीपल के पेड़ की 108 बार परिक्रमा जरूर करें। ऐसा करते समय पेड़ पर कच्चा सूत भी बाधें। फिर पेड़ पर कच्चा दूध चढ़ाएं।

Credit: iStock

नदी स्नान न कर पाएं तो क्या करें

अगर आपके आस-पास नदी नहीं है तो घर पर ही नहाने के पानी में गंगाजल मिलाकर स्नान कर लें। इससे भी पुण्य फल की प्राप्ति होगी।

Credit: iStock

हर महीने आती है अमावस्या

हर महीने में अमावस्या तिथि पड़ती है इस तरह से एक साल में कुल 12 अमावस्या होती है। लेकिन मौनी अमावस्या का अपना विशेष महत्व माना जाता है।

Credit: iStock

इस स्टोरी को देखने के लिए थॅंक्स

Next: कुंभ राशि में शुक्र-शनि होंगे साथ, इन राशियों का चमकाएंगे भाग्य!

ऐसी और स्टोरीज देखें