Nov 10, 2022

बच्चों को जरूर सिखाएं ये Leadership टिप्स

आदित्य सिंह

कैसे डेवलप करें बच्चों में लीडरशिप

आज के बच्चे आने वाले कर ले लीडर हैं, लेकिन यह निर्भर करता है कि आप उनकी परवरिश कैसे कर रहे हैं। एक समय था कि बच्चों का भविष्य केवल पढ़ाई तक सीमित था, लेकिन आजकल खेल कूद व अन्य चीजें पढ़ाई के ओहदे पर पहुंच गए हैं। हर माता पिता अपने बच्चे को पढ़ाई के अलावा अन्य क्षेत्रों में भी आगे बढ़ते हुए देखना चाहते हैं।

Credit: Timesnow Hindi

एक्स्ट्रा करीकुलर एक्टीविटीज

अक्सर बचपन में ही बच्चों का हुनर झलक जाता है। ऐसे में बच्चों पर सिर्फ पढ़ाई के लिए दबाव ना बनाएं बल्कि पढ़ाई के साथ खेलकूद व एक्सट्रा करीकुलर एक्टीविटीज के लिए भी प्रोत्साहित करें।

Credit: iStock

बढ़ेगा आत्मविश्वास

बच्चों को अपने दिन का टाइम टेबल खुद बनाने दें, बस आप उनका साथ दें। इससे उनका आत्मविश्वास बढ़ेगा और नेतृत्व की क्षमता सीख पाएंगे

Credit: iStock

एक अच्छा लीडरशिप

एक अच्छे लीडरशिप का मतलब होता है कि, वह दूसरों की परेशानी को समझे। ऐसे में माता-पिता को अपने बच्चों में नम्र भाव का विकास करना चाहिए।

Credit: iStock

सच का साथ दें

माता-पिता को बचपन से ही बच्चों को सच और झूठ का अंतर समझाना चाहिए। बच्चों को हमेशा सच बोलना सिखाएं।

Credit: iStock

कड़ी मेहनत व संघर्ष

कड़ी मेहनत व संघर्ष से व्यक्ति बड़े से बड़े लक्ष्य और मुकाम को हासिल कर सकता है। ऐसे में बच्चों को अपने लक्ष्य की प्राप्ति के लिए कड़ी मेहनत व संघर्ष करना सिखाएं।

Credit: Timesnow Hindi

ईमानदारी की सीख

एक ईमानदार व्यक्ति समाज में सभी का दिल जीतने में कामयाब होता है। ऐसे में बच्चों को शुरू से ईमानदारी का महत्व समझाएं और हर परिस्थिति में ईमानदारी की सीख दें।

Credit: Timesnow Hindi

सकारात्मक भाव की सीख दें

माता पिता को अपने बच्चों में सकारात्मक भाव का विकास करना चाहिए, उन्हें परिस्थिति में सकारात्मक रहने की सीख दें।

Credit: Timesnow Hindi

बाहर निकलने व खेलने से ना रोकें

आजकल देखा जा रहा है कि, माता पिता अपने बच्चों को बाहर निकलने, खेलने व अन्य बच्चों के साथ रहने के लिए मना करते हैं। बता दें आपकी यह गलती बच्चों को बड़े होकर भगुतना पड़ता है। ऐसे में बच्चों को हर किसी के साथ घुल मिल जाने की सीख दें।

Credit: iStock

Thanks For Reading!

Next: क्या सानिया शोएब का हो चुका है तलाक? क्या ये है वजह