Nov 11, 2022

​National Education Day 2022: क्यों व किसकी याद में मनाया जाता है?

नीलाक्ष सिंह

​कब मनाया जाता है National Education Day

भारत के पहले शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आजाद की जयंती के उपलक्ष्य में हर साल 11 नवंबर, 2022 को भारत में राष्ट्रीय शिक्षा दिवस मनाया जाता है।

Credit: pixabay

​कब हुई National Education Day की शुरुआत

मौलाना अबुल कलाम आजाद को सम्मानित करने के लिए, मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने 11 नवंबर, 2008 को 11 नवंबर को 'राष्ट्रीय शिक्षा दिवस' के रूप में घोषित किया।

Credit: iStock

​शिक्षा मंत्री रह चुके हैं मौलाना अबुल कलाम आजाद

मौलाना अबुल कमल आजाद 15 अगस्त 1947 से 2 फरवरी 1958 तक भारत के शिक्षा मंत्री थे। वह एक भारतीय स्वतंत्रता कार्यकर्ता, इस्लामी धर्मशास्त्री, लेखक और भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भी थे।

Credit: Instagram

​मौलाना आजाद का पूरा नाम

हममे से कई लोगों को उनका पूरा नाम शायद ही पता हो। उनका पूरा नाम अबुल कलाम गुलाम मुहियुद्दीन अहमद बिन खैरुद्दीन अल-हुसैनी आजाद था।

Credit: Instagram

​मौलाना आजाद का जन्म कब हुआ

मौलाना आजाद का जन्म 18 नवंबर, 1888 को हुआ था। इन्होंने तकनीकी शिक्षा के बारे में सोचा जिसमें सभी बच्चों के लिए व्यावसायिक प्रशिक्षण शामिल हो।

Credit: Instagram

​मौलाना अबुल कलाम आजाद का योगदान

मौलाना अबुल कलाम आजाद ने भारत की शिक्षा प्रणाली को आकार देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने हमेशा लड़कियों की शिक्षा और 14 साल से कम उम्र के सभी बच्चों के लिए मुफ्त अनिवार्य शिक्षा पर जोर दिया।

Credit: Istock

​National Education Day की थीम

मानव संसाधन विकास मंत्रालय हर साल राष्ट्रीय शिक्षा दिवस के लिए एक अलग थीम तय करता है। इस वर्ष का विषय "पाठ्यक्रम बदलना, शिक्षा बदलना" है। यह विषय इंगित करता है कि शिक्षा प्रणाली में सुधार जरूरी है।

Credit: Istock

​सर्वोच्च नागरिक सम्मान

मौलाना अबुल कलाम आजाद को भारत का सर्वोच्च नागरिक सम्मान, भारत रत्न, मरणोपरांत 1992 में दिया गया था। बता दें, राष्ट्रीय शिक्षा दिवस की थीम का चुनाव मानव संसाधन विकास मंत्राल करता है।

Credit: Instagram

​यूजीसी, एआईसीटीई स​हित कई बोर्ड व आयोग की स्थापना

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी), अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई), जैसे जामिया मिलिया इस्लामिया और आईआईटी खड़गपुर माध्यमिक विद्यालय बोर्ड की स्थापना माौलाना आजाद के कार्यकाल में हुई।

Credit: Istock

Thanks For Reading!

Next: एक दो नहीं पूरे 7 तरह के एग्जाम कराती है एसएससी, चेक करें लिस्ट