Jan 22, 2023

खुद कहां से पढ़े हैं कोचिंग क्लास चलाने वाले खान सर?

Prabhash Rawat

मुश्किल टॉपिक बनाते हैं आसान

खान जी.एस. रिसर्च सेंटर नाम से कोचिंग संस्थान चलाने वाले खान सर सोशल मीडिया पर बहुत मशहूर हैं और मुश्किल टॉपिक्स को आसान भाषा में समझाने के लिए जाने जाते हैं।

Credit: Timesnow Hindi

कहां हुआ जन्म?

खान सर का जन्म दिसंबर 1993 में भाटपार रानी, देवरिया, उत्तर प्रदेश में हुआ था और कथित तौर पर उनका पूरा नाम फैजल खान है।

Credit: Timesnow Hindi

प्रारंभिक शिक्षा

खान सर ने प्रारंभिक शिक्षा देवरिया के भाटपार रानी स्थित परमार मिशन स्कूल से की। सेना में जाने के जुनून के साथ सैनिक स्कूल में प्रवेश के लिए 8वीं कक्षा के बाद प्रवेश परीक्षा दी लेकिन असफल रहे।

Credit: Timesnow Hindi

एनडीए का एग्जाम

एनसीसी में शामिल होने के बाद, वह सेना में शामिल होने के लिए बहुत इच्छुक थे, जिसके लिए उन्होंने इंटरमीडिएट के बाद राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (एनडीए) की प्रवेश परीक्षा दी।

Credit: Timesnow Hindi

टूट गया सेना का सपना

परीक्षा के बाद मेडिकल टेस्ट में अनफिट होने से सेना में भर्ती होने का खान सर का सपना टूट गया। इसके बाद इलाहाबाद (अब प्रयागराज) चले गए जहां इलाहाबाद यूनिवर्सिटी से साइंस ग्रेजुएट (B.Sc) डिग्री की।

Credit: Timesnow Hindi

आर्थिक परेशानी में काम आया दोस्त

ग्रेजुएशन आर्थिक दिक्कतों के बीच दोस्तों की मदद से ग्रेजुएशन पूरा किया। आर्थिक स्थिति के कारण खान सर भी दोस्त हेमंत के कारण टीचिंग लाइन से जुड़ गए।

Credit: Timesnow Hindi

शुरू किया होम ट्यूशन

छोटी कक्षा के बच्चों को ट्यूशन देने से शुरुआत के बाद पढ़ाई में एक कमजोर बच्चा ट्यूशन पढ़ने के बाद कक्षा में प्रथम आने लगा और उसके माता-पिता बहुत खुश हुए।

Credit: Timesnow Hindi

ज्वाइन की कोचिंग क्लास

हेमंत की वजह से खान सर ने शिक्षक के रूप में एक छोटी सी कोचिंग क्लास ज्वाइन की, शुरुआत में उनकी कक्षा में केवल 6 छात्र थे।

Credit: Timesnow Hindi

और छा गए खान सर

खान सर की पढ़ाने की अनूठी शैली छात्रों के बीच वह छात्रों के बीच लोकप्रिय होने लगे और कोविड के दौरान ऑनलाइन क्लास के समय वह सोशल मीडिया पर भी छा गए।

Credit: Timesnow Hindi

इस स्टोरी को देखने के लिए थॅंक्स

Next: छात्रों के लिए पंकज त्रिपाठी की अनमोल सलाह, मिलेगा जिंदगी का सबक

ऐसी और स्टोरीज देखें