Varanasi Fake Police: पुलिस अधिकारी बनकर करते थे वसूली, खुद को बताते थे ऑफिसर, ऐसे हुआ ठगी के खेल का खुलासा

Fake Police officer Arrested in Varanasi: वाराणसी में एक बार फिर फर्जी पुलिस अधिकारी पकड़े गए हैं। इस बार दो लोगों की गिरफ्तारी हुई है। पुलिस ने चोलापुर के भदवा गांव के रहने वाले संदीप दशरथ और कैंट के छावनी क्षेत्र निवासी फ्रेंक फ्रेंन्डिंक्स जॉर्ज को गिरफ्तार किया है।

The lovers used to collect money from the couple by calling themselves an officer of crime dastak
खुद को क्राइम दस्तक का अधिकारी बताकर प्रेमी युगल से वसूलते थे पैसे (प्रतीकात्मक तस्वीर)  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • दोनों शातिर पुलिस अधिकारी बनकर प्रेमी युगल से करते थे वसूली
  • चोलापुर से पुलिस ने दोनों शातिरों को किया गिरफ्तार
  • दोनों की शिकायत एक महिला ने पुलिस कंट्रोल रूम में की थी

Varanasi Police: वाराणसी पुलिस ने एक महिला की शिकायत पर दो फर्जी पुलिस अधिकारियों को गिरफ्तार किया है। इन शातिर अपराधियों को पकड़ने के लिए पुलिस को भी काफी मशक्कत करनी पड़ी। दोनों पुलिस अधिकारी बनकर शहर में प्रेमी युगलों से वसूली किया करते थे। पुलिस ने इन दोनों को चोलापुर से गिरफ्तार किया और फिर चालान कर दिया। गिरफ्तार आरोपियों में चोलापुर के भदवा का रहने वाला संदीप दशरथ और कैंट छावनी क्षेत्र स्थित बंगला नंबर 51 का रहने वाला फ्रेंन्डिक्स जॉर्ज हैं। इन दोनों आरोपियों के खिलाफ चितईपुर थाने में केस दर्ज कराया गया था। 

होटल, लॉज एवं किराए के कमरे में पहुंचकर करते थे वसूली

दोनों आरोपियों के खिलाफ पुलिस कंट्रोल रूम में शिकायत दर्ज कराई गई थी दो पुलिस अधिकारी प्रेमी युगल के निजी पलों के समय पहुंच जाते हैं। फिर यह उनसे मोटी रकम की वसूली करते हैं। पुलिस को इन दोनों ने बताया है कि, होटलों, लॉज एवं किराए पर लिए गए कमरे में रहने वाले प्रेमी युगलों को यह लोग अपना निशाना बनाते थे। उन्हें डरा-धमकाकर उनके पार्टनर के साथ वीडियो बना लेते थे। फिर उन दोनों से माफीनामा लिखवाया करते थे। उसके बाद उस वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर मोटी रकम वसूलते थे। 

महिला से दोनों ने लिए थे 4 हजार रुपए एवं दो मोबाइल

शिकायत दर्ज कराने वाली महिला के अनुसार इन दोनों ने उससे 4 हजार रुपए और दो मोबाइल लिए थे। जब दोनों ने दोबारा पैसे की मांग की, तब महिला ने पुलिस कंट्रोल रूम में शिकायत दर्ज करवा दी। दिलचस्प बात है कि, गिरफ्तार दोनों अपराधी लोगों को डराने के लिए खुद को पुलिस की एक अलग टीम का हिस्सा बताया करते थे। उस टीम का नाम क्राइम दस्तक कहते थे। प्रेमी युग से कहते थे वह दोनों क्राइम दस्तक के अधिकारी हैं। पुलिस का कहना है कि, इन दोनों से जुड़ी और जानकारियां हासिल की जा रहीं हैं। 

Varanasi News in Hindi (वाराणसी समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर