राह देखती रह गई मौत, आरपीएफ कांस्टेबल ने यात्री की इस तरह बचाई जान, देखें [VIDEO]

ट्रेंडिंग/वायरल
Updated Dec 05, 2019 | 10:57 IST | टाइम्स नाउ ब्यूरो

ठाणे रेलवे स्टेशन पर दिल दहलाने वाली घटना दस्तक दे रही थी। लेकिन एक आरपीएफ कांस्टेबल की सूझबूझ और बहादुरी से एक यात्री की जान बच गई जिसका इंतजार मौत कर रही थी।

राह देखती रह गई मौत, आरपीएफ कांस्टेबल ने यात्री की इस तरह बचाई जान, देखें [VIDEO]
ठाणे रेलवे स्टेशन की सच्ची घटना 

मुंबई। कहा जाता है कि मौत कब किस पल आपको अपने आगोश में ले ले पता नहीं। लेकिन इसके साथ ये भी कहा जाता है कि जाको राखे साइंया मार सके न कोए। ये दोनों कहावतें 55 वर्ष के बब्बन राधाकिशन सोनावने पर सटीक बैठती है। ठाणे के प्लेफॉर्म नंबर 6 और 7 के बीच मौत इंतजार कर रही थी। लेकिन ठीक उसी वक्त शायद बब्बन राधाकिशन के लिए आरपीएफ कांस्टेबल अनिल कुमार को भगवान ने फरिश्ते के रूप में भेजा हुआ था। यहां हम उस यात्री के बारे में भी बताएंगे कि आखिर वो किस तरह से हादसे का शिकार होने से बच गया और उस शख्स अनिल कुमार के बारे में भी बताएंगे जिसकी सूझबूझ से वो शख्स बच गया। 

3 दिसंबर 2019 की रात आरपीएफ कांस्टेबल की ड्यूटी खोया पाया सेक्शन में लगी हुई थी। ड्यूटी के दौरान उसने देखा कि एक शख्स कल्याण की तरफ जाने वाली प्लेटफॉर्म नंबर 6 और 7 के बीच इस उलझन में है कि आखिर ट्रेन किस प्लेटफॉर्म पर आने वाली है, वो यात्री पूरी तरह से गफलत में था। इस बीच अनिल कुमार को ट्रेन का हॉर्न सुनाई पड़ा और वो उस शख्स को बचाने के लिए ट्रैक पर कूद गया और यात्री की जान बचा ली। ट्रेन नंबर 18029 के लोको पायलट का कहना है कि प्लेटफॉर्म पर अफरातफरी को देखते हुए उसने भी इमरजेंसी ब्रेक लगा दिया था और ट्रेन उस जगह से थोड़ी देर पहले ही रुक गई।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर