शर्मनाक : भूखे बच्‍चों का पेट भरने के लिए विधवा ने सिर मुंडवाकर 150 रुपये में बेच डाले बाल

Widow shaved head: तमिलनाडु के सेलम में एक महिला ने अपने बच्चों के पेट की आग बुझाने के लिए बेहद प्रिय अपने सिर के बालों (Hair) की बलि दे दी।

मां की ममता: भूखे बच्‍चों का पेट भरने के लिए विधवा ने सिर मुंडवाकर 150 रुपये में बेच डाले बाल
महिला ने अपने बच्चों के पेट की आग बुझाने के लिए बेहद प्रिय अपने सिर के बालों की बलि दे दी 

नई दिल्ली: कहा जाता है कि मां की ममता का मोल नहीं होता है और वो अपने बच्चों के लिए उनके पालन के लिए किसी भी हद तक जा सकती है, तमिलनाडु से ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां एक मां ने अपने बच्चों का पेट भरने के लिए अपने बाल ही बेच डाले तब जाकर उसके बच्चों का पेट भर पाया। 

तमिलनाडु के शहर सलेम में रहने वाली प्रेमा नाम की एक महिला के तीन बच्चे हैं ये बेहद गरीबी की हालत में रह रहे हैं। 

बताया जा रहा है कि उसके पति के उपर भारी कर्ज था जिसके चलते तकरीबन 7 महीने पहले सुसाइड कर लिया था जिसके बाद उनकी हालत और भी खराब हो गई और वो लोग दाने-दाने को मोहताज हो गए जिसके बाद  प्रेमा ने अपने तीनों मासूम बच्चों के पेट की आग बुझाने के लिए जानने वालों से और पड़ोसियों से उधार मांगा लेकिन उसे उधार नहीं मिला।

कहा गया कि आज शुक्रवार है और इस दिन उधार देना अपशकुन माना जाता है।बताते हैं कि एक शख्स ने प्रेमा के बाल खरीदने की पेशकश की उसे बिग बनाने के लिए बालों की जरुरत थी जिसके बाद प्रेमा ने 150 रुपये में अपने बाल बेच डाले और मिले 150 रुपयों में से उसने अपने बच्चों का पेट भरा। 

बाद में परेशान प्रेमा ने हारकर आत्महत्या की सोची लेकिन उसमें भी उसे कामयाबी नहीं मिली बाद में प्रेमा की कहानी जानकर लोग उसकी मदद को आगे आए। समाज के उदार लोगों की वजह से प्रेमा के करीब 1.45 लाख रुपयों की मदद मिल चुकी है वहीं  सलेम के जिला प्रशासन ने उसकी मासिक विधवा पेंशन भी शुरू कर दी है इसके बाद से प्रेमा की जिंदगी बदल गई है। 
 

 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर