...जब 3 घंटे के लिए आया बन गईं प्रोफेसर, सोशल मीडिया पर खूब हुई तारीफ

ट्रेंडिंग/वायरल
Updated Oct 02, 2019 | 15:58 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

एक प्रोफेसर ने तीन घंटे तक अपनी स्‍टूडेंट के बच्‍चे को न केवल थामे रखा, बल्कि इस दौरान लेक्‍चर भी दिया। सोशल मीडिया पर लोग 'सुपर मॉम' कहकर उनकी तारीफ कर रहे हैं।

University professor carries baby for 3 hours in class as student could not find babysitter
सोशल मीडिया पर इस महिला की खूब तारीफ हो रही है  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • स्‍टूडेंट की क्‍लास थी और उसे उस दिन बच्‍चे के लिए आया नहीं मिल पाई थी
  • यूनिवर्सिटी प्रोफेसर ने 3 घंटे तक उसके बच्‍चे को संभाला और लेक्‍चर भी दिया
  • प्रोफेसर सोशल मीडिया की सुर्खियों में है और लोग उनकी खूब तारीफ कर रहे हैं

नई दिल्‍ली : बच्‍चा संभालते हुए पढ़ाई करना कोई आसान काम नहीं होता। कभी पारिवारिक जिम्‍मेदारियों के बीच तो कभी बच्‍चे को संभालते हुए पढ़ाई अक्‍सर महिलाओं के लिए बड़ी चुनौतियां साबित हुई हैं। ऐसी ही समस्‍या एक यूनिवर्सिटी स्‍टूडेंट के साथ भी पेश आई, जिसमें उसकी प्रोफेसर बेहद मददगार साबित हुई, जो करीब तीन घंटे तक अपनी एक स्‍टूडेंट के बच्‍चे को संभालती रही, जब तक कि क्‍लास चलती रही।

यह स्‍टूडेंट अमेरिकी राज्‍य जॉर्जिया में लॉरेंसविले की जॉर्जिया ग्विनेट कॉलेज की बताई जा रही है, जो अपने बच्‍चे को संभालने के साथ-साथ पढ़ाई भी जारी रखे हुए है। क्‍लास करने और परीक्षाओं को लेकर उस पर उतना ही दबाव है, जितना की किसी अन्‍य स्‍टूडेंट को। हालांकि कुछ समय पहले वह उस वक्‍त मुश्किलों में घिर गई, जब उसकी क्‍लास भी थी और उसे कोई आया (babysitter) भी नहीं मिल सकी। हालांकि इस दौरान प्रोफेसर ने अपनी स्‍टूडेंट की समस्‍या का समाधान कर दिया, जब उन्‍होंने खुद कुछ समय के लिए बच्‍चे को थाम लिया।

बायलॉजी की क्‍लास चल रही थी, जब 51 वर्षीय प्रोफेसर डॉ. रमाता सिसोको ने स्‍टूडेंट को मदद की पेशकश की और उसके बच्‍चे को अपनी पीठ पर टांग ल‍िया। इतना ही नहीं, उन्‍होंने तीन घंटे तक लेक्‍चर भी दिया। प्रोफेसर की बेटी एन्‍ना किस्‍से ने यह तस्‍वीर ले ली और फिर ट्विटर पर शेयर करते हुए लिखा कि उन्‍हें अपनी मां पर बेहद गर्व है, जो पूरी दुनिया को ही अपने बच्‍चे की तरह देखती हैं।

एन्‍ना के इस ट्वीट को सोशल मीडिया पर लोगों ने खूब पसंद किया और यह फेसबुक व इंस्‍टाग्राम पर भी शेयर हुआ। लोगों ने इस पर तरह-तरह से प्रतिक्रिया दी। सोशल मीडिया पर कई लोगों ने उन्‍हें 'सुपर मॉम' कहते हुए उनकी तारीफ की।

एक यूजर ने लिखा कि दुनिया में ऐसे लोगों की सख्‍त जरूरत है, जो दूसरों की परेशानी समझ सके। कई लोगों ने सोशल मीडिया पर इसी से मिलते-जुलते अपने अनुभव भी साझा किए।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर