पाकिस्तान के मशहूर डॉक्टर ने सात लड़कियों के साथ पोस्ट की फोटो, जानिए क्यों भड़क गए कट्टरपंथी

पाकिस्तान के प्रसिद्ध सर्जन डॉ. इकबाल ने अपनी 7 स्टूटेंड्स के साथ एक फोटो क्या साझा की कि बवाल मच गया है। इस फोटो में वह अपने सात स्टूडेंट्स के साथ बैठ थे।

Pakistani Doctor Javed Iqbal shares a photo on twitter with his female students, radicals got furious
पाक डॉक्टर ने सात लड़कियों के साथ पोस्ट की फोटो, मचा बवाल 

मुख्य बातें

  • पाकिस्तान के प्रसिद्ध डॉक्टर हैं डॉ. जावेद इकबाल
  • डॉ. जावेद ने महिला स्टूडेंट्स की फोटो शेयर करते हुए की उनकी तारीफ
  • डॉ. जावेद की फोटो देखकर भड़क गए कट्टरपंथी, कहने लगे बुरा-भला

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के मशहूर सर्जन और डॉक्टर इकबाल इन दिनों सुर्खियों में बने हुए हैं। दरअसल डॉक्टर इकबाल ने एक ट्वीट करते हुए अपनी सात महिला स्टूडेंट्स की शेयर की और लिखा कि वो अपनी यूनिट में इन सभी को सर्जरी की ट्रेनिंग दे रहे हैं। इसके बाद जो हुआ उसकी डॉ. इकबाल ने भी कल्पना नहीं की होगी। उनके एक ट्वीट से कट्टरपंथी भड़क गए हैं और सोशल मीडिया के जरिए उन्हें ट्रोल करने लगे।

क्या कहा डॉक्टर इकबाल ने
दरअसल डॉक्टर इकबाल ने अपनी एक फोटो ट्वीटर पर शेयर की। इसके साथ उन्होंने कैप्शन लिखा, 'कौन कहता है कि सर्जरी लड़कियों के लिए नहीं है। ये सातों लड़कियां सर्जन हैं। मैं कृतज्ञ हूं कि मुझे इन्हें प्रशिक्षित करने का मौका मिला।' देखते ही देखते उनका ट्वीट वायरल हो गया और कुछ लोग उनकी तारीफ में कसीदे गढ़ रहे थे तो कुछ ऐसे लोग भी थे जो उन्हें ट्रोल करने लगे।

यूजर करने लगे ट्रोल
एक यूजर ने लिखा, 'वैसे सर आपस की बात ये है कि ये सभी सर्जन लगते भी नहीं है।' वहीं एक अन्य यूजर ने लिखा, 'उन्हें गुमराह मत करो, उनकी अच्छी पत्नी और अच्छी मां वाली जिंदगी क्यों बर्बाद कर रहे हैं, इससे उन पर बोझ बढेगा।' वहीं एक यूजर ने तो कुरान का हवाला देते हुए कहा कि यह पेशा महिलाओं के लिए नहीं है, उन्हें पर्दे में घर के अंदर रहना चाहिए।'

अधिकतर ने की तारीफ

हालांकि कई यूजर्स ऐसे थे जिन्होंने इस तस्वीर की खूब तारीफ की और डॉक्टर इकबाल के योगदान की तारीफ करते हुए कहा कि वो पाकिस्तान के लिए एक धरोहर की तरह है। एक अन्य यूजर ने लिखा, 'मानवता की सेवा करना एक बड़ी जिम्मेदारी। अल्लाह उन्हें इतनी ताकत दे कि वे अपने बच्चों को बड़ा कर एक महान राष्ट्र बनाने में मदद कर सकें। वह हमेशा एक माँ ही होती है जो राष्ट्र का निर्माण करती है। आशा है कि इन सबके पास अपने बच्चों को देने के लिए पर्याप्त समय होगा।'

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर