Dominica : कहां पर है कैरिबियाई देश डोमिनिका, जहां पकड़ा गया फरार मेहुल चोकसी

​एंटीगुआ और बारबुडा ने अपने पड़ोसी देश डोमिनिका को चोकसी को सीधे भारत भेजने को कहा है, वहीं डोमिनिका उसे एंटीगुआ भेजने पर विचार कर रहा है। डोमनिका अमेरिका का हिस्सा है लेकिन ऐसा नहीं है।

Know about Dominican republic where Mehul Chokasi has been caught
डोमिनिका एक कैरिबियाई देश है।  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • डोमिनिका में पकड़ा गया है पीएनबी घोटाले के आरोपी मेहुल चोकसी
  • एंटीगुआ से भागकर डोमनिका पहुंचा था चोकसी, पुलिस ने किया अरेस्ट
  • चोकसी को भारत लाया जा सकता है, एंटीगुआ-डोमिनिका में बातचीत

नई दिल्ली : पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले का आरोपी मेहुल चोकसी कैरिबियाई द्विपीय देश डोमिनिका में पकड़ा गया है। इस देश का पूरा नाम डोमनिकन रिपब्लिक है। चोकसी एंटीगुआ से भागकर डोमिनिका पुहंचा था लेकिन यहां वह पुलिस के हत्थे चढ़ गया है। चोकसी ने एंटीगुआ की नागरिकता ली हुई है। उसके फरार होने पर एंटीगुआ सरकार ने उसकी तलाश के लिए इंटरपोल से अलर्ट जारी कराया था। गिरफ्तार होने के बाद चोकसी को भारत लाए जाने की बात चल रही है।

डोमिनिका में पकड़ा गया चोकसी
एंटीगुआ और बारबुडा ने अपने पड़ोसी देश डोमिनिका को चोकसी को सीधे भारत भेजने को कहा है, वहीं डोमिनिका उसे एंटीगुआ भेजने पर विचार कर रहा है। डोमनिका में चोकसी के पकड़े जाने के बाद लोगों की इस देश के बारे में जानने की रुचि बढ़ गई है। आइए जानते हैं डोमनिका के बारे में कुछ रोचक बातें-

अमेरिका का हिस्सा नहीं है डोमिनिका
कई लोगों को लगता है कि डोमनिका अमेरिका का हिस्सा है लेकिन ऐसा नहीं है। डोमनिका एक अलग देश है। यह देश कैरिबियाई द्वीप हिस्पानिओला के पूर्वी दो-तिहाई हिस्से में बसा है। जबकि द्वीप का एक तिहाई हिस्सा हैती के पास है। डोमनिका पर फ्रांस और स्पेन दोनों का शासन रहा है। साल 1844 में इसने पड़ोसी देश हैती से खुद को आजाद घोषित किया। बाद में 1861 में यह स्पेन के अधीन आ गया और 1865 में इसने खुद को आजाद घोषित कर लिया। यहां की भाषा स्पेनिश है और जनसंख्या करीब 10 लाख है। अमेरिका के साथ डोमनिका के करीबी रिश्ते हैं। 

काफी रमणीय हैं यहां के भू-दृश्य
समुद्र तट से लगा डोमनिका प्राकृतिक भू-दृश्यों के लिए जाना जाता है। इसके आकर्षक समुद्र तट दुनिया भर से बड़ी संख्या में पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित करते हैं। समुद्र तटों के अलावा यहां के पहाड़, झरने, पुराने जमाने की इमारतें और उनकी खास बनावट डोमिनिका की सुंदरता को बढ़ाते हैं। डोमिनिका की 25 प्रतिशत जमीन पार्क, रिजर्व और अभ्यारण्य के लिए आरक्षित है। डोमिनिका की राजधानी सैंटो डोमिंगो है। 

पर्यटन के लिए यहां बड़ी संख्या में आते हैं लोग
कैरिबियाई एवं मध्य अमेरिकी क्षेत्र में डोमनिका की अर्थव्यवस्था सबसे बड़ी है। इसकी गिनती विकासशील देशों में होती है। इसकी अर्थव्यवस्था का एक बड़ा हिस्सा पर्यटन पर निर्भर है। पर्यटन के लिए कैरिबायाई देशों में यह सबसे पसंदीदा जगह है। यहां के गोल्फ कोर्स काफी मशहूर हैं। डोमिनिका प्राकृतिक सुंदरता, भू-दृश्य, देखने के लिए लाखों लोग प्रति वर्ष यहां आते हैं। कैरिबायाई क्षेत्र के दो सबसे बड़े पहाड़ यहीं स्थित हैं। इस द्विपीय देश का औसम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस के करीब रहता है।

निवेश लेकर नागरिकता देता है डोमिनिका
डोमिनिका दुनिया के ऐसे देशों में शुमार है जो निवेश लेकर लोगों को अपनी नागरिकता प्रदान करता है। यह देश बाहरी लोगों को दो तरीके से अपनी नागरिकता देता है। पहला कोई इस देश को अनुदान देकर नागरिकता हासिल कर सकता है। दूसरा यहां के रीयल इस्टेट कारोबार में निवेश कर नागरिकता पाई जा सकती है। डोमिनिका में निवेश करने वाले लोगों और उनके परिवार को पूर्ण रूप से नागरिकता दी जाती है। निवेश करने वाले 152 से ज्यादा देशों में बिना वीजा के यात्रा कर सकते हैं। खास बात यह है कि नागरिकता लेने के बाद डोमिनिका में रहना अनिवार्य नहीं है। डोमिनिका की नागरिकता लेने में 60 से 90 दिन का समय लगता है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Viral News in Hindi, साथ ही Hindi News के ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर