Kashmir: आतंक की राह पर भटके एक कश्मीरी से सेना ने कहा-जी ले अपनी जिंदगी, भावुक नजारा-VIRAL VIDEO

जम्मू कश्मीर में एक युवक जो भटककर आतंक की राह पर चल पड़ा था उसे सेना ने वापसी का मौका दिया है जिससे उसके परिवार वाले बेहद खुश हैं, ये बेहद भावुक करने वाला सीन था।

j&k terreist
आतंकी साजिद के परिवार वाले उससे मिले तो नजारा खासा भावुक करने वाला था।  |  तस्वीर साभार: Twitter

जम्मू कश्मीर में सेना आतंकियों का सफाया कर रही है और घाटी में आतंक पर भारी चोट की है जिससे आतंकियों के कदम उखड़ रहे हैं और आतंकियों की तादात घट रही है। आतंकी इससे बौखलाए हुए हैं और युवाओं को बरगलाकर नई नई भर्तियां करने की जुगत में लगे हैं।

वहीं जम्मू-कश्मीर के पुलवामा  के नूरपोरा इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियो के बीच मुठभेड़ हुई इस एनकाउंटर में एक आतंकी मारा गया जबकि दूसरे आतंकी ने सुरक्षाबलों के सामने आत्मसमर्पण कर दिया।

सरेंडर करने वाला आतंकी के आत्मसमपर्ण के बाद सेना ने उसकी कहानी जानी तो पता चला कि वो बीटेक कर रहा था,और कोरोना संकट के दौरान घर आया था और एक दोस्त द्वारा आतंकवाद में शामिल होने के लिए गुमराह किया गया था। वह अपने घर से 25 सितंबर से गायब था, मगर अब सरेंडर के बाद उसकी बैकग्राउंड और उसकी पढ़ाई को देखते हुए सेना ने उसकी घर वापसी का कदम उठाया।

भारतीय सेना राह से भटके युवाओं को परिवार में वापस लाने के प्रयास में, गुमराह युवाओं को हिंसा का रास्ता दिखाने और मुख्यधारा के समाज में लौटने के लिए हर संभव सहायता प्रदान कर रही है, इस मामले में भी ऐसा हुआ आतंकी साजिद के परिवार वाले उससे मिले तो नजारा खासा भावुक करने वाला था।

इससे पहले सुरक्षा बलों ने आत्मसमर्पण के लिए घोषणा की और दूसरा आतंकवादी उसका जवाब देकर बाहर आया। उन्होंने अपने फेरन (पारंपरिक वस्त्र) को यह दिखाने के लिए बंद कर दिया कि वह एक हथियार नहीं चला रहा था और पकड़ा गया था उसका हथियार बाद में मौके से बरामद किया गया था।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर