हाथों से लिख डाला 3000 पन्नों का रामचरितमानस, डेढ़ टन है वजन, ये है ख्वाहिश

ट्रेंडिंग/वायरल
Updated Sep 23, 2019 | 11:25 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

जयपुर के एक शख्स ने अपने हाथों से 3000 पन्नों का रामचरितमानस ग्रंथ लिख डाला है। इसका कुल वजन 150 किलोग्राम है। इस शख्स की इच्छा है कि वह इसे अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर में दान करेगा।

ramcharitmanas
हस्तलिखित रामचरितमानस  |  तस्वीर साभार: ANI

जयपुर : जयपुर के एक व्यक्ति ने अपने हाथों से रामचरितमानस लिख डाला है। शरद माथुर नाम के इस व्यक्ति ने 3,000 पन्नों का रामचरितमानस ग्रंथ अपने हाथों से लिखा है। 150 किलोग्राम के इस ग्रंथ को लिखने के लिए उसने ऑइल पेंट का इस्तेमाल किया था। उसने बताया कि मैंने 6 साल पहले इस रामचरितमानस को लिखना शुरू किया था। अयोध्या में जब भी राम मंदिर बन कर तैयार हो जाएगा, मेरी इच्छा है कि मैं इस किताब को वहां दान करूं।

बताया जा रहा है कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के मुद्दे पर इसी साल नवंबर तक सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई पूरी की जा सकती है। उसी समय इस पर फैसला भी आ सकता है। फिलहाल वर्षों पुराने चल रहे इस जटिल मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में रोजाना सुनवाई हो रही है। 

 

 

अगली खबर