पेट दर्द इलाज के लिए पहुंची महिला, डॉक्टर ने दवाई के बदले लिख दिया कंडोम

ट्रेंडिंग/वायरल
Updated Jul 28, 2019 | 19:14 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

झारखंड में पेट दर्द का इलाज कराने सरकारी अस्पताल गई एक महिला को डॉक्टर ने पर्ची पर कंडोम लिखकर दे दिया।

Condom
सांकेतिक फोटो  |  तस्वीर साभार: BCCL

मुख्य बातें

  • महिला को डॉक्टर ने दवाई की पर्ची पर लिखकर दिया कंडोम
  • महिला ने इस मामले की शिकायत सीनियर डॉक्टर से की
  • विधायक कुणाल सारंगी ने इस मामले को विधानसभा में उठाया

रांची: इलाज के दौरान अक्‍सर मरीजों के साथ लापरवाही की घटना देखने और सुनने को मिलती हैं। कई बार लापरवाही से मरीजों की जान पर भी बन आती है। अक्सर ऐसी घटनाएं छोटे-मोटे क्लीनिक या झोलझाप डॉक्टर्स की होती हैं। मगर हाल ही में एक ऐसी घटना सामने आई है जिसने सबको हैरान कर दिया है और सरकारी अस्पतालों में डॉक्टर के गैर जिम्मेदाराना रवैये की भी कलई खोल दी है। मामला झारखंड के पश्चिम सिंघभूम जिला का है जहां सरकारी अस्पताल में पेट दर्द का इलाज कराने गई एक महिला को डॉक्टर ने दवाई की पर्ची पर कंडोम लिखकर दे दिया।

पेट दर्द से परेशान महिला को कथित तौर पर कंडोम देने वाले डॉक्टर अशरफ बदर के खिलाफ जांच बिठा दी गई है। डॉक्टर कॉन्ट्रेक्ट पर काम करता है। क्लास 4-ग्रेड महिला कर्मचारी 23 जुलाई को पश्चिम सिंहभूम जिले के घाटशिला सरकारी अस्पताल गई थी। महिला ने डॉक्टर अशरफ से पेट दर्द की शिकायत की जिसके बाद डॉक्टर ने दवाई की पर्च पर कंडोम लिखर दे दिया।

इसके बाद महिला जब दवाई की पर्ची लेकर मडिकल स्टोर पर गई तो उसे दुकानदार ने बताया कि पर्ची पर दवाई नहीं बल्कि कंडोम लिखा है। महिला ने इस मामले की शिकायत सीनीयर डॉक्टर्स से की। वहीं, महिला के सीनीयर डॉक्टर्स से शिकायत करने के बाद ये मुद्दा विधानसभा में भी गूंजा। झारखंड मुक्ति मोर्चा के विधायक कुणाल सारंगी ने इस मामले को विधानसभा में उठाया।

महिला की शिकायत के आधार पर इस पूरे मामले की जांच के लिए मनोचिकित्सक सहित एक मेडिकल टीम गठित की गई है। घाटशिला सब-डिवीजनल अस्पताल के प्रभारी शंकर टुडू ने पत्रकारों से कहा, 'महिला की शिकायत के आधार पर एक मेडिकल टीम गठित की गई है जिसने जांच शुरू कर दी है।'

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर