आइसोलेशन से परेशान थी कोरोना पीड़ित सास, बहू को जबरन गले लगाकर किया संक्रमित

तेलंगाना के एक गांव से ऐसा अजीबोगरीब मामला सामने आया है जहां एक सास होम आइसोलेशन से परेशान थी और उसने चिढ़कर बहू को गले लगा लिया और कोविड संक्रमित कर दिया।

Covid-19 positive woman infects daughter-in-law by embracing her forcibly in Telangana
आइसोलेशन से परेशान थी सास,बहू को जबरन गले लगाकर किया पॉजिटिव 

मुख्य बातें

  • कोरोना पीड़ित सास होम आइसोलेशन से थी बहुत परेशान
  • सास ने बदला लिया और बहू को जबरन गले लगाकर किया कोरोना संक्रमित
  • बहू को पॉजिटिव होने के बाद घर से भी निकाला, मायके पहुंची बहू

हैदराबाद: कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने देश को बुरी तरह प्रभावित किया है। लाखों लोग इस लहर की चपेट में आ चुके हैं। कोरोना संक्रमित कई लोगों का जहां अस्पताल में उपचार चल रहा है वहीं कई लोग ऐसे भी हैं जो होम आइसोलेशन में हैं। होम आइसोलेशन के दौरान लोगों को अकेलेपन जैसी दिक्कतों का भी सामना करना पड़ रहा है और इसी अकेलेपन से परेशान होकर एक महिला ने अजीबोगरीब कदम उठा लिया और अपनी ही बहू को संक्रमित कर दिया।

तेलंगाना का है मामला
मामला तेलंगाना के एक गांव का है, जहां एक महिला को कुछ दिन से दिक्कत हो रही थी तो घर वालों ने उसका टेस्ट करवाया और कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके बाद महिला को घर में आइसोलेट कर दिया गया और इस दौरान परिवार ने सुरक्षा बरतते हुए महिला से मिलना बंद कर दिया क्योंकि संक्रमण के फैलने का खतरा था। बस यही बात कोरोना पॉजिटिव महिला को खल गई और वह इस बात से नाराज हो गई कि कोई उससे मिल तक नहीं रहा है।

ऐसे लिया बदला
महिला ने इसका बदला कुछ इस तरह लिया जिसकी चर्चा हर तरफ हो रही है। टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, महिला ने अपनी बहू को जबरदस्ती गले लगा लिया और उसे भी कोरोना संक्रमित कर दिया। बाद में जब बहू की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो उसे गांव के घर से बाहर निकाल दिया। इसके बाद उसकी बहन उसे अपने माता पिता के घर ले आई। परेशना महिला ने राजस्व विभाग के अधिकारियों से इसकी शिकायत की जिन्होंने 31 मई को महिला के घर का दौरा किया था। 

पीड़ित बहू ने कही ये बात
पीड़ित बहू ने आरोप लगाते हुए कहा, 'मेरी सास ने मुझे यह कहते हुए गले लगाया कि मुझे भी कोविड -19 से संक्रमित होना चाहिए। वह परेशान थी कि पॉजिटिव होने के बाद मैं उससे दूरी बनाए रख रही थी।' चूंकि महिला ने अपने दो बच्चों को अपनी सास के पास नहीं जाने की अनुमति दी थी और उसे एक निर्दिष्ट स्थान से अपना भोजन लेने के को कहा था, इसलिए वृद्ध महिला (सास) भेदभाव महसूस करने लगी और परेशान रहने लगी। सास ने बहू को गुस्से से कहा, 'क्या तुम सब मेरे मरने पर खुशी से जीना चाहते हो?' इतना कहने के बाद उसने अपनी बहू को अचानक गले लगाना शुरू कर दिया। अधिकारियों का कहना है कि सास का स्पष्ट इरादा था कि बहू भी कोविड -19 से संक्रमित होनी चाहिए।

राजस्व विभाग के दो अधिकारी जिन्होंने पीड़ित बहू के घर का दौरान किया, उन्होंने उसे दवा उपलब्ध कराई और कहा कि यदि वह सास के खिलाफ शिकायत दर्ज कराती हैं तो हम दर्ज करने के लिए तैयार हैं। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर