Corona: मुंबई लॉकडाउन में एक दिव्यांग की मदद की गुहार पर दौड़ी पुलिस, एक ट्वीट पर होम मिनिस्टर ने उठाया कदम

कोरोना वायरस के खतरे के चलते पूरे देश भर में लॉकडाउन के बाद अधिकतर लोग अपने घरों में हैं वहीं मुंबई से पुलिस की मदद की बेहतरीन मामला सामने आया है।

mumbai ploce
प्रतीकात्मक फोटो 

कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच पीएम मोदी ने 21 दिन का लॉकआउट पूरे देश में लागू कर दिया ऐसे में लोग अपने घरों में बैठे हैं, लेकिन इस सबके बीच मुंबई से एक दिव्यांग की मदद का सामने आया है, जिसने पुलिस की इमेज बदलकर रख दी,गौरतलब है कि लॉकआउट के बीच लोग फोन पर एक दूसरे से बात कर पा रहे हैं।

बताया जा रहा है कि मुंबई के मलाड इलाके में रहने वाली एक 25 साल की दिव्यांग युवती विराली मोदी ने अपनी परेशानी ट्विटर के जरिए महाराष्ट्र के गृहमंत्री तक शेयर की, उसने लिखा कि मोदी ने कहा था कि 'वे चल फिर नहीं सकती और घर में अकेली रहती हैं और कोरोना के चलते उनके घर का कामकाज करने वाली मेड ने भी आना बंद कर दिया है। खाने से लेकर वह दूसरे सभी काम-काज के लिए अपनी मेड पर निर्भर थी, चूंकि अब वो नहीं आ रही है इसलिए उसकी परेशानी बढ़ गई है।'

मुंबई पुलिस की टीम कुछ ही मिनटों के भीतर विराली के घर पहुंची
राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने इस ट्वीट पर तत्काल एक्शन लेते हुए स्थानीय पुलिस को अलर्ट किया और एक टीम घर पर भेजी, मलाड पुलिस स्टेशन के पुलिस निरीक्षक और उनकी टीम कुछ ही मिनटों के भीतर विराली की सेहत की पूछताछ के लिए घर पर पहुंच गई।

इतने कम समय में इस एक्शन को देखकर विराली हैरान रह गई उसे विश्वास ही नहीं हुआ कि ऐसा भी हो सकता है वो भी ऐसे माहौल में, वहीं पुलिस ने उसकी समस्या को ध्यान में रखते हुए तुरंत विराली की मेड से संपर्क किया और मदद उपलब्ध कराई, पुलिस ने विराली की मेड को कर्फ्यू पास दिलाया ताकि उन्हें अब आने-जाने में कोई परेशानी ना हो।

 

वहीं महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने मलाड पुलिस के पुलिस निरीक्षक और उनकी टीम की सराहना की और सभी नागरिकों को भरोसा दिलाया कि संकट की इस स्थिति में इंसानियत का भी पूरा ध्यान रखा जाएगा। 

अगली खबर