समंदर से मिला बॉटल में बंद 50 साल पुराना मैसेज, भारत दौरे पर आए अंग्रेज ने लिखा था ये

ट्रेंडिंग/वायरल
Updated Jul 20, 2019 | 16:03 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

कागज पर संदेश लिख कर उसे बॉटल में बंद करके समंदर में फेंकते हुए आपने कई फिल्मों में देखा होगा। ऑस्ट्रेलिया में एक लड़के ने समंदर से एक ऐसे ही 50 साल पुराने मैसेज को पाया जो बॉटल में बंद था।

message in bottle
समंदर से मिला बॉटल में बंद मैसेज  |  तस्वीर साभार: Representative Image

लंदन : ऑस्ट्रेलिया के एक लड़के को समुद्र से बॉटल में बंद एक 50 साल पुराना मैसेज मिला। वह इसे देखकर इतना एक्साइटेड हो गया कि उसने इस बारे में सोशल मीडिया पर अपना अनुभव बताया है। उसे रिमोट बीच पर बॉटल में बंद 50 साल पुराना एक मैसेज मिला। मैसेज एक अंग्रेज के द्वारा लिखा गया था जिसने 50 साल पहले मैसेज लिख बॉटल में बंद कर उसे हिंद महासागर में डाल दिया था।      

1969 में 13 वर्षीय पॉल गिलमोर इंग्लैंड से दुनिया के दूसरे हिस्से में यात्रा कर रहा था। 17 नवंबर, 1969 को उसने एक मैसेज लिखकर बॉटल में बंद करके हिंद महासागर के अंदर फेंक दिया। लेटर में जहाज के लोकेशन के बारे में लिखा हुआ था- 1,000 माइल ईस्ट ऑफ फ्रेमैंटल, वेस्टर्न ऑस्ट्रेलिया। साथ में इसने लिखा था-प्लीज रिप्लाय।

9 वर्षीय ज्याह इलियट ने मंगलवार को साउथ ऑस्ट्रेलिया के तालिया बीच पर उस बॉटल को पाया। उसने उसी दिन गिलमोर को रिप्लाय भी लिख भेजा। इलियट ने पहले सोचा कि ये लेटर फर्जी है लेकिन इसके बाद भी वह उस पर रिप्लाय करने के लिए बेहद एक्साइटेड था। 

गिलमोर का परिवार ऑस्ट्रेलिया और यूके में है। हालांकि उन लोगों ने फिर से उस मैसेज को ढूंढ़ने की कोशिश की लेकिन उन्हें फिर से वो मैसेज नहीं मिला। गिलमोर की बहन एनी क्रॉसलैंड ने कहा कि ये सचमुच में चमत्कार है। उसने कहा कि उसे अभी तक याद है कि उसके भाई ने तकरीबन छह लेटर लिखे थे और उन्हें बॉटल में डाले थे।

गिलमोर का छोटा भाई डेविड जो उस समय मौजूद था जब ये लेटर लिखा गया था, ने बताया कि वह इस मैसेज के जरिए अपने भाई की हैंडराइटिंग बहूत खूब पहचान सकता है। मैं आश्चर्यचकित हूं। यह सच में बेहद खूबसूरत याद है। ज्याह को अब समंदर से गिलमोर के दूसरे लेटर की तलाश है। इस बार उसे उम्मीद है कि उसे ज्यादा समय नहीं लगेगा।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर