Army soldier wedding: आसान नहीं सैनिक होना- अपनी ही शादी में नहीं पहुंच सका जवान

सेना के जवान के बारे में भारतीय सेना के चिनार कॉर्प्स ने ट्विटर अकाउंट पर जानकारी साझा की और लिखा कि एक सैनिक को आए दिन जिंदगी में ऐसी परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है।

Army soldier could not reach his wedding
अपनी शादी में नहीं पहुंच सका सेना का जवान 

नई दिल्ली: एक सैनिक का जीवन बहुत सारे बलिदान और जिम्मेदारियों से भरा होता है। कठिन परिस्थिति वाले इलाकों और मौसम की स्थिति के साथ अपने प्रियजनों से मिलने के लिए इंतजार करने का लंबा समय कई बार मानसिक स्वास्थ्य पर असर डालता है। एक सैनिक जिंदगी में कई कठिनाइयों का सामना करके भी हार नहीं मानता और देशवासियों की नजरों में इसलिए सम्मानित भी होता है। उसका बलिदान और मोर्चे पर रहने की वजह से हमें रात में शांति से नींद आती है।

इस हफ्ते, एक सेना के जवान को दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति का सामना करना पड़ा जिसकी सोशल मीडिया पर चर्चा हो रही है। कश्मीर में तैनात एक जवान गुरुवार को भारी बर्फवारी के कारण घाटी में फंसे होने के बाद अपनी ही शादी में नहीं पहुंच सका।

हिमाचल प्रदेश के मंडी के रहने वाले सुनील के विवाह समारोह बुधवार से शुरू हो गए थे। गुरुवार को मंडी में लडभड़ोल के दालेड गांव के लिए बारात निकलने वाली थी और दोनों तरफ के रिश्तेदार बस सुनील का इंतजार कर रहे थे। अफसोस की बात यह रही कि बारात निकल ही नहीं सकी क्योंकि सुनील मंडी नहीं पहुंच सके।

सैनिक की छुट्टी 1 जनवरी से शुरू हो गई थी, लेकिन दो सप्ताह से अधिक समय तक लगातार बर्फबारी के कारण वह बांदीपुरा में फंसे रहे। समय पर अपनी शादी तक पहुंचने में असमर्थ, सुनील ने फोन पर दुल्हन के परिवार से संपर्क किया और उसकी स्थिति को समझाया।

Indian Army soldier Sunil Kumar

दोनों परिवार फोन पर उससे बात करने के बाद सुनील के लिए चिंतित थे, लेकिन अगले दिन मौसम की स्थिति में सुधार होने की वजह से राहत मिली। सुनील सुरक्षित श्रीनगर पहुंच गए और जल्द ही हिमाचल प्रदेश के लिए उड़ान भरेंगे।

चिनार कॉर्प्स के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से सुनील की मिसाल के बारे में जानकारी साझा की गई है। इस पोस्ट के साथ ट्वीट में लिखा है, 'एक सैनिक के जीवन में इस तरह के घटनाएं आम हैं।'

चिनार कॉर्प्स इंडियन आर्मी ने ट्विटर पर लिखा, 'चिंता मत करो। जीवन इंतजार कर लेगा। दुल्हन का परिवार एक नई तारीख के लिए सहमत हो गया है। यह एक सैनिक के जीवन में सामान्य बात है।' दुल्हन के चाचा ने कहा कि परिवार को देश की सेवा करने के लिए सुनील पर गर्व है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर