ट्रूकॉलर की इस 'हरकत' से यूजर्स हुए परेशान

टेक एंड गैजेट्स
Updated Jul 30, 2019 | 16:58 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

ट्रूकॉलर एप द्वारा भेजे गए एक मैसेज के कारण उसे यूजर्स परेशान है। दरअसल, एप ने यूजर्स की परमिशन के बिना ही आईसीआईसीआई बैंक की यूपीआई सेवा के लिए एन्क्रिप्टेड मैसेज भेज दिया है।

Truecaller
ट्रूकॉलर से वजह से डर रहे हैं यूजर्स 
मुख्य बातें
  • ट्रूकॉलर ने बिना इजाज यूजर्स के नंबर से एन्क्रिप्टेड मैसेज यूपीआई सर्विस एक्टिवेट करने के लिए भेजा।
  • ट्रूकॉलर ने इसे एक बग बताया है और इस अपडेट को डिस्कंडिन्यू कर दिया है।
  • बग ने आईसीआईसीआई बैंक की यूपीआई सेवा के रिस्ट्रेशन के लिए मैसेज भेजा है।

नई दिल्ली: ट्रूकॉलर के कुछ यूजर्स को एक मैसेज ने परेशान कर दिया है। भारतीय यूजर्स के लिए ट्रूकॉलर का नया अपडेट एक सरप्राइस बनकर सामने आया। जब एप ने एक एन्क्रिप्टेड मैसेज आईसीआईसीआई बैंक को ऑटोमेटिक भेज दिया। दरअसल, ये मैसेज आईसीआईसीआई बैंक की यूपीआई सेवा के रजिस्ट्रेशन के लिए भेजा गया था। सबसे ज्यादा चौंकाने वाली बात ये है कि ट्रूकॉलर एप ने किसी भी यूजर्स से इस प्रक्रिया को शुरू करने से पहले परमिशन नहीं मांगी। 

वहीं ये मैसेज सभी यूजर्स की ओर से भी भेजा गया है चाहे वे आईसीआईसीआई बैंक धारक हों या नहीं। जिसके बाद आईसीआईसीआई बैंक धारकों के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू हो गई, जबकि बैंक अकाउंट ना रखने वालों के लिए ये प्रक्रिया अभी शुरू नहीं हुई है। 

ट्रूकॉलर यूजर्स ने इस घटना के बाद सोशल मीडिया पर इस समस्या को उठाया। उन्हें डर है कि कहीं इस वजह से उनके आईसीआईसीआई बैंक अकाउंट से यूपीआई के जरिए पैसे ना निकाल लिए जाए। ट्रूकॉलर ने इस समस्या को माना है और इसे एक बग बताया है। 

ट्रूकॉलर ने क्या कहा

ट्रूकॉलर की ओर से जारी किए गए बयान में कहा गया, 'हाल में हुए अपडेट में हमें एक बग मिला है जिसने पेमेंट फीचर को प्रभावित किया है, जिससे रजिस्ट्रेशन के लिए ऑटोमेटिक मैसेज गए हैं। ये एक बग है और हमें एप के इस वर्जन को डिस्कंटीन्यू कर दिया है, जिससे ये और ज्यादा यूजर्स को प्रभावित ना करे। हमने इस समस्या को दूर करने के लिए त्वरित कदम उठाए और इसे ठीक करने के लिए नया वर्जन रोल आउट कर दिया है। जो लोग इससे प्रभावित हुए हैं, उन्हें जल्द ही इसका फिक्स वर्जन उपलब्ध कराया जाएगा। हालांकि तब तक यूजर्स मैन्युअल तरीके से डिरजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया चुन सकते हैं।'

 

 

बता दें कि साल 2017 में ट्रूकॉलर ने आईसीआईसीआई बैंक के साथ मिलकर यूपीआई आधारित पेमेंट सेवा शुरू करने की घोषणा की थी, जिसके तहत आईसीआईसीआई बैंक यूजर्स को यूपीआई आईडी बनाने, यूपीआई के जरिए पैसे भेजने या प्राप्त करने की सुविधा प्रदान करने की घोषणा की थी। इसके साथ ही यूजर्स को ट्रूकॉलर एप के जरिए मोबाइल रिचार्ज की सुविधा भी मिलती है। इस समझौते के बाद आईसीआईसीआई बैंक- ट्रूकॉलर का की पेमेंट सेवा देश के सबसे बड़े पेमेंट प्लेटफॉर्म में से एक बन गई।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर