Sonu Sood Pravasi Rojgar App: सोनू सूद प्रवासी मजदूरों को घर पहुंचाने के बाद अब दिलाएंगे काम, लॉन्च किया ऐप

pravasi rozgar app: कोरोना के इस मुश्किल परिस्थिति में बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद असली हीरो साबित हुए हैं। लॉकडाउन में फंसे प्रवासी मजदूरों को घर पहुंचाने के बाद एक्टर अब उनके काम का भी इंतजाम करने वाले हैं।

Sonu Sood
सोनू सूद प्रवासी मजदूरों को दिलाएंगे काम 

मुख्य बातें

  • सोनू सूद ने 'प्रवासी रोजगार' ऐप लॉन्च किया है।
  • एक्टर अब उन्हें रोजगार दिलाने में भी मदद कर रहे है।
  • जानिए इस ऐप की खासियत

बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद एक बार फिर से प्रवासी मजदूरों की मदद के लिए आगे आए हैंं। बता दें कि मुंबई में लॉकडाउन के दौरान फंसे प्रवासी मजदूरों को उनके घर तक पहुंचाने में एक्टर बड़ी भूमिका निभा चुके हैं। लेकिन घर पहुंचने के बाद प्रवासी मजदूरों के पास काम की समस्या हो गई है। ऐसे में एक्टर उनके काम का भी इंतजाम करने वाले हैं। सोनू सूद ने 'प्रवासी रोजगार' ऐप लॉन्च किया है। यह ऐप प्रवासी मजदूरों को देशभर में अलग-अलग क्षेत्रों में रोजगार के अवसरों का पता लगाने में मदद करेगा।

वहीं कोरोना महामारी के बीच इन लोगों के लिए सोनू सूद मसीहा बनकर सामने आए। लोगों को घर पहुंचाने के बाद अब उन्हें रोजगार दिलाने में भी मदद कर रहे है। सोनू की यह ऐप प्रवासी रोजगार एक फ्री ऑनलाइन प्लैटफॉर्म है, जहां वह आवश्यक जानकारी के साथ नौकरी खोजने के लिए सही लिंक भी प्रदान करेगा। 47 वर्षीय एक्टर ने बताया कि प्रवासियों को घर पहुंचाने के बाद रोजगार ढूंढ़ रहे हैं। यह काफी मुश्किल वक्त है। हालांकि केंद्र सरकार के पास उन्हें काम दिलाने की योजना है, लेकिन मुझे लगता है कि उन्हें लॉन्ग टर्म सॉल्यूशन की जरूरत है।

हेल्प लाइफ नंबर फोन करवा सकते हैं रजिस्टर
सोनू सूद ने बताया कि उनकी एक वेबसाइट और एक ऐप है। ऐसे में वर्कर्स को इससे जोड़ने के लिए ग्राउंड पर जो लोग हैं, वह उनकी मदद करेंगे। इसके अलावा हमारा एक हेल्पलाइन नंबर भी है। लोग अगर चाहे तो हेल्प लाइन नंबर पर फोन कर के रजिस्टर कर सकते हैं। इस दौरान वह अपनी योग्यिता और क्या सीखना चाहते हैं वह भी बता सकते हैं। इन डिटेल्स के जरिए हम उनकी प्रोफाइल बनाएंगे और ट्रेनिंग देंगे। साथ ही उन्हें कहां अच्छा काम मिल सकता है वहां पहुंचने में मदद भी करेंगे।

जानिए इस ऐप की खासियत
सोनू सूद ने अपना ये ऑनलाइन प्लैटफॉर्म कंस्ट्रक्शन, कपड़ों, स्वास्थ्य सेवा, इंजीनियरिंग, बीपीओ, सुरक्षा, ऑटोमोबाइल, ई-कॉमर्स और लॉजिस्टिक्स सेक्टर से जुड़ी 500 से अधिक प्रतिष्ठित कंपनियां हैं, जो नौकरी के अवसर प्रदान करती हैं। 'प्रवासी रोज़गार' से जुड़ने के कई फायदे हैं। यहां काउंसिलिंग सेशन होंगे, बढ़िया जॉब ऑफर मिलेंगे साथ ही इंग्लिश बोलने जैसी कई स्किल्स सिखाई जाएंगी। नई दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु, हैदराबाद, कोयम्बटूर, अहमदाबाद और तिरुवनंतपुरम में 24x7 इसकी हेल्पलाइन मौजूद रहेगी।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर