जियो गीगाफाइबर के नाम पर हो रही है ठगी

टेक एंड गैजेट्स
Updated Jul 30, 2019 | 15:27 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

रिलायंस जियो गीगाफाइबर के नाम पर ठगी का मामला सामने आया है। कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक जियो के नाम पर फर्जी मेल करके ग्राहकों से ठगी की जा रही है।

Jio Gigafiber
जियो गीगाफाइबर के नाम पर आ रहे हैं फर्जी मेल 
मुख्य बातें
  • जियो गीगाफाइबर एक्टिवेशन के नाम पर आ रहे हैं लोगों को फर्जी मेल।
  • इस प्रकार के किसी भी मेल से सावधान रहे।
  • ठग इस तरह के मेल का इस्तेमाल कर लोगों से बैंकिंग डिटेल्स चुरा रहे हैं।

नई दिल्ली: इस बात पर कोई संदेह नहीं है कि लाखों लोग जियो गीगाफाइबर सेवा का इंतजार कर रहे हैं। पिछले साल मुकेश अंबानी इस सेवा को लॉन्च करने की घोषणा की थी। जिसके बाद जियो की आधिकारिक वेबसाइट पर गीगाफाइबर के रजिस्ट्रेशन के लिए पेज जारी किया गया। यहां इच्छुक उपभोक्ता इस सेवा के लिए रजिस्टर कर सकते हैं। फिलहाल इस सेवा का ट्रायल चल रहा है, जिसे जियो जल्द ही लॉन्च कर सकती है। वहीं कुछ लोग जियो की इस सेवा के नाम पर ठगी का काम भी कर रहे हैं। आइए जानते हैं अब तक हमें रिलायंस जियो गीगाफाइबर के बारे में क्या क्या पता है। 

कैसे हो रही है ठगी

सबसे पहले तो आपको ये समझना होगा कि ठग किस प्रकार से लोगों को फंसा रहे हैं। ठगी करने वाले सबसे पहले आपका विश्वास जीतने की कोशिश करते हैं और फिर आपसे आपकी बैंकिंग जानकारी, पासवर्ड, प्राइवेट इंफॉर्मेशन और अन्य सेंसटिव डेटा इकट्ठा करते हैं। घोटाला करने वाले ये लोग रिलायंस जियो के प्रतिनिधि के रूप में आपसे संपर्क करते हैं। 

रिलायंस जियो गीगाफाइबर का ठगी वाला मेल

रिपोर्ट्स के मुताबिक कुछ लोगों को मेल आए हैं, जिसमें 'गीगाफाइबर- एक्टिवेशन रिक्वेस्ट रिसीवड' लिखा हुआ है। मेल के के अंदर जियो डिजिटल लाइफ का मास्टहेड है। मेल में एक लिंक भी प्रदान की गई है, जिसमें प्लान और कीमत के साथ सब्सक्रिप्शन कंफर्म करने दिशा निर्देश दिए हुए हैं। यदि आपको भी इस प्रकार का मेल आया है तो आप इसे ओपन ना करें। 

ध्यान दें कि ठगी करने वालों ने इस मेल को जियो के मेल की तरह ही बना है, जिसमें उन्होंने जियो के समान ही फॉन्ट और ग्राफिक्स का इस्तेमाल किया है, जिससे ऐसा लगे कि ये मेल जियो द्वारा किया गया है। अगर आप उन मेल पर ध्यान दें तो पाएंगे कि ये मेल जियो की ओर से नहीं भेजे गए हैं। गौरतलब है कि जियो इस सेवा को अगले महीने लॉन्च कर सकती है। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर