Chinese Apps: भारत सरकार ने फिर से चाइनीज मोबाइल ऐप्स को किया बैन, अब नहीं देखने को मिलेगी ये 47 Apps

Indian government has barred more Chinese apps: पिछले महीने 59 चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगाने के बाद भारत सरकार ने देश में 47 और चीनी ऐप्स को संचालित करने से रोक दिया है।

Chinese apps banned
भारत सरकार ने फिर से चाइनीज मोबाइल ऐप्स को किया बैन 

मुख्य बातें

  • पिछले महीने सरकार ने 59 चाइनीज ऐप्स को बैन किया था।
  • सरकार फिर से 47 चीनी ऐप्स को बैन किया है।
  • संबंधित मोबाइल एप्लिकेशन की सूची जल्द ही प्रकाशित की जाएगी।

नई दिल्ली: भारत सरकार द्वारा पहले 59 चीनी एप्स पर प्रतिबंध लगाने के लगभग एक महीने बाद 47 और चीनी एप पर प्रतिबंध लगाए गए हैं, जो पहले प्रतिबंधित एप के क्लोन थे। इसकी जानकारी सूत्रों से मिली। संबंधित मोबाइल एप्लिकेशन की सूची जल्द ही प्रकाशित की जाएगी। एक आधिकारिक सूत्र ने आईएएनएस को बताया कि प्रतिबंधित किए जाने वाले एप्स पहले से प्रतिबंधित एप्स के क्लोन के रूप में पाए गए हैं।

इन नए एप्स पर प्रतिबंध की बात इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा 59 प्रतिबंधित एप के आदेशों का सख्ती से पालन करने या उल्लंघन के मामले में गंभीर कार्रवाई करने के लिए आया। मंत्रालय ने संबंधित सभी कंपनियों को पत्र लिखा है और कहा है कि प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से एप उपलब्ध कराना आईटी अधिनियम और अन्य कानूनों का उल्लंघन है।

लद्दाख की गलवान घाटी में चीन की सेना के साथ हुई हिंसक झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद से ही चीन और उसके प्रोडक्ट समेत सभी एप्स को लेकर भारत के लोगों में गुस्सा था, जिसके बाद 29 जून को सरकार ने यूसी ब्राउजर, शेयर इट, हैलो, लाइक, कैम स्कैनर, शीन क्वाई आदि सहित 59 चीनी एप बैन किए थे। इसमें सबसे प्रमुख नाम टिकटॉक का था।

मंत्रालय के अनुसार, इस कदम से करोड़ों भारतीय मोबाइल यूजर्स के गोपनीयता की रक्षा होगी।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर