सुमित नागल ने किया बड़ा धमाका, पहली बार यूएस ओपन सिंगल्‍स के लिए किया क्‍वालिफाई

स्पोर्ट्स
Updated Aug 24, 2019 | 04:55 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

22 साल के सुमित नागल इस समय विश्‍व रैंकिंग में 190वें स्‍थान पर हैं। उन्‍होंने 2019 पुरुष सिंगल्‍स यूएस ओपन के लिए क्‍वालिफाई कर लिया है। सीनियर ग्रैंडस्‍लैम में सुमित पहली बार खेलते हुए नजर आएंगे।

sumit nagal
सुमित नागल 

मुख्य बातें

  • 22 साल के सुमित नागल इस समय विश्‍व रैंकिंग में 190वें स्‍थान पर हैं
  • सीनियर ग्रैंडस्‍लैम में सुमित पहली बार खेलते हुए नजर आएंगे
  • सुमित ने ब्राजील के जो मेनजेस को 5-7, 6-4, 6-3 से मात दी

नई दिल्‍ली: 22 साल के सुमित नागल ने यूएस ओपन 2019 पुरुष सिंगल्‍स के लिए क्‍वालिफाई कर लिया है। विश्‍व रैंकिंग में 190वें स्‍थान पर काबिज सुमित ने शुक्रवार को फाइनल क्‍वालिफाइंग राउंड मैच में ब्राजील के जो मेनजेस को 5-7, 6-4, 6-3 से मात दी। सुमित ने दो घंटे 27 मिनट तक चले इस मुकाबले में एक से सेट से पिछड़ने के बाद जोरदार वापसी की और जीत हासिल की।

सुमित का सीनियर ग्रैंडस्‍लैम में यह पहला मौका होगा। वह पहली बार इस तरह के ग्रैंडस्‍लैम टूर्नामेंट में नजर आएंगे। बता दें कि साल का आखिरी ग्रैंडस्‍लैम टूर्नामेंट यूएस ओपन सोमवार से शुरू होगा। पुरुषों में भारत की तरफ से सुमित के अलावा प्रजनेश गुनेश्‍वरण भी अपना जल्‍वा बिखेरते नजर आएंगे, जो ऑटोमेटिक क्‍वालिफायर हैं।

सुमित की शुक्रवार को मेनजेस के खिलाफ पहले सेट के 12वें गेम में सर्विस ब्रेक हो गई थी। इसके चलते भारतीय टेनिस खिलाड़ी 5-7 से पहला सेट गंवा बैठे। दूसरे सेट में भी सुमित की शुरुआत अच्‍छी नहीं रही। वह 0-2 से पिछड़ रहे थे। हालांकि, यह मैच का वह समय था जब सुमित ने जोरदार वापसी की। उन्‍होंने लगातार दो बार ब्राजीली टेनिस खिलाड़ी की सर्विस ब्रेक की और दूसरा सेट 6-4 से अपने नाम किया। 

लय हासिल करने के बाद सुमित ने अपने खेल को ज्‍यादा आक्रामक कर लिया और तीसरे सेट में ब्राजील के मेनजेस को आसानी से 6-3 से मात दी। वैसे, नागल ग्रैंडस्‍लैम सिंगल्‍स में क्‍वालिफाई करने वाले पांचवें भारतीय खिलाड़ी बन चुके हैं। इससे पहले 2013 यूएस ओपन के लिए सोमदेव देववर्मन ने क्‍वालिफाई किया था। फिर 2016 यूएस ओपन के लिए साकेत मायनेनी। युकी भांबरी ने 2018 में चारों ग्रैंडस्‍लैम के लिए क्‍वालिफाई किया था। प्रजनेश गुनेश्‍वरण ने 2019 ऑस्‍ट्रेलियन ओपन के लिए क्‍वालिफाई किया।

बहरहाल, प्रजनेश को पहले राउंड में पांचवीं वरीय डानिल मेदवेदेव के खिलाफ मुकाबला खेलना होगा। यह 1998 विंबलडन के बाद पहला मौका होगा जब एक ग्रैंडस्‍लैम में दो भारतीय खिलाड़ी होंगे। इससे पहले 1998 विंबलडन में लिएंडर पेस और महेश भूपति ने पुरुष सिंगल्‍स ड्रॉ में मुकाबला खेला था।

बता दें कि सुमित नागल ने इससे पहले कभी सिंगल ग्रैंडस्‍लैम क्‍वालिफाइंग मुकाबला नहीं जीता था। नागल ने मंगलवार को ग्रैंडस्‍लैम इवेंट में पहली जीत दर्ज करते हुए जापान के तात्‍सुम इटो को सीधे सेटों में मात दी थी। इसके बाद गुरुवार को सुमित ने कनाडा के 192वें रैंक वाले पीटर पोलांसकी को सीधे सेटों में मात दी। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर