Olympics 2020: कोरोना वायरस कहर के बीच आया IOC का बड़ा बयान

कोरोना वायरस के खौफ के बीच जब पूरी दुनिया इसकी चपेट में है, तब आईओसी ने टोक्यो ओलंपिक 2020 को लेकर एक ताजा बयान जारी किया है। अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक महासंघ का ताजा बयान महत्वपूर्ण है।

IOC releases official statement on Tokyo Olympics 2020
IOC releases official statement on Tokyo Olympics 2020  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • क्या कोरोना वायरस की वजह से आगे बढ़ेगा ओलंपिक 2020
  • अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक महासंघ ने जारी किया ताजा बयान
  • समय पर होंगे टोक्यो ओलंपिक, आधिकारिक बयान में बताई वजह

नई दिल्लीः कोरोना वायरस (Covid-19) के बढ़ते प्रकोप व खौफ के चलते पूरी दुनिया थम सी गई है। तमाम खेल प्रतियोगिताएं व बड़े टूर्नामेंट स्थगित कर दिए गए हैं। इसी बीच सभी को इंतजार था कि आखिर इसी साल गर्मियों में होने वाले टोक्यो ओलंपिक 2020 का क्या होगा? आखिरकार मंगलवार को अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक महासंघ (आईओसी) ने आधिकारिक रूप से बयान जारी करके साफ कर दिया कि ओलंपिक के कार्यक्रम में कोई बदलाव नहीं होने वाला।

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक महासंघ ने अपने ताजा बयान में कहा है कि, 'ये पूरी दुनिया के लिए गंभीर स्थिति है और हमारी संवेदना उन सबके साथ है जो इससे पीड़ित हैं या संघर्ष कर रहे हैं। इस वायरस को रोकने के लिए हम सबके साथ हैं। कोविड-19 वायरस की वजह से ओलंपिक 2020 की तैयारियों पर भी असर पड़ा है और हर दिन इसमें बदलाव देखने को मिल रहे हैं। आईओसी ओलंपिक गेम्स टोक्यो 2020 को आयोजित कराने के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है और अब जब आयोजन शुरू होने में 4 महीने से कम का समय बाकी है इसलिए कोई बड़ा फैसला लेने का सवाल नहीं उठता।'

इसके साथ ही आईओसी ने दुनिया भर में खिलाड़ियों से अपील भी कर डाली कि वे अपनी तैयारियां जारी रखें। बयान में कहा गया कि, 'आईओसी सभी एथलीटों को प्रोत्साहित करता है कि वे ओलंपिक खेलों के लिए अपने सर्वश्रेष्ठ स्तर पर तैयारियां जारी रखें। हम खिलाड़ियों की मदद के लिए समय-समय पर अपना योगदान देते रहेंगे और सभी एनओसी का भी साथ देते रहेंगे। उन्हें सभी जानकारियां व बदलावों के बारे में भी सूचित करते रहेंगे।'

आईओसी ने कहा कि उनको भरोसा है कि दुनिया भर में प्रशासन द्वारा इस वायरस की रोकथाम के लिए जो कदम उठाए जा रहे हैं वो जल्द ही फायदेमंद साबित होते नजर आएंगे। आईओसी ने जी7 के नेताओं के समर्थन का भी स्वागत किया, जैसा कि जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने भी ये कहते हुए किया था कि वे ओलंपिक और पैरालंपिक का सफल आयोजन कराना चाहते हैं ताकि ये साबित हो सके कि इनसान ने नए कोरोना वायरस से जंग जीत ली है। इसके साथ ही आईओसी ने अपने बयान में कुछ जरूरी बातें भी अंकित कीं ताकि खिलाड़ियों में भरोसा कायम हो सके।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर