मेसी ने कहा- 'कोरोना के बारे में अब ज्यादा सोचना नहीं चाहिए, ला लीगा में खेलने को तैयार'

Lionel Messi ready for La Liga: बेशक कोरोना वायरस ने स्पेन में तहलका मचाया हुआ है, लेकिन वहां के शीर्ष क्लब बार्सिलोना से खेलने वाले लियोनेल मेसी और कुछ अन्य खिलाड़ी खेल की शुरुआत चाहते हैं।

Lionel Messi
लियोनेल मेसी  |  तस्वीर साभार: IANS

मैड्रिड: कोरोना महामारी ने दुनिया में जिन देशों को सबसे ज्यादा परेशान किया हैं उनमें स्पेन का नाम भी शामिल है। वहां पर कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा भी बढ़ा और उससे होने वाली मौतों का भी। महीनों से लॉकडाउन में बंद स्पेन अब चाहता है कि धीरे-धीरे वहां लॉकडाउन में ढील दी जाए लेकिन हालात अभी भी पूरी तरह सामान्य नहीं हुए हैं। इसी बीच वहां फुटबॉल की बहाली की चर्चा है और दिग्गज फुटबॉलर लियोनेल मेसी भी इसके पक्ष में आगे आए हैं।

लियोनेल मेसी ने कहा है कि स्पेन की शीर्ष लीग 'ला लीगा' की अगर अगले महीने वापसी होती है तो वो अन्य फुटबालरों के साथ मैदान पर उतरने में सहज महसूस करेंगे। ला लीगा के अध्यक्ष जेवियर टेबास ने मैचों को फिर से शुरू करने के लिये 12 जून को आदर्श तिथि बताया है। बार्सिलोना अभी तालिका में अपने चिर प्रतिद्वंद्वी रीयाल मैड्रिड से दो अंक आगे शीर्ष पर हैं। मेसी ने खेल दैनिक ‘मुंडो डेपोर्टिवा’ से कहा, ‘संक्रमण का खतरा तो हर जगह है। जब आप घर से बाहर निकलते हो तो उसमें जोखिम होता है, इसलिए मुझे लगता है कि इसके बारे में बहुत नहीं सोचना चाहिए क्योंकि फिर आप कहीं नहीं जाना चाहेंगे। लेकिन हम यह भी समझते हैं कि प्रोटोकॉल का पालन करना और बचाव के सभी उपायों को अपनाना भी जरूरी है। अभ्यास पर लौटना पहला कदम है लेकिन हमें आत्मसंतुष्ट नहीं होना होगा और हमें सभी जरूरी ऐहतियाती कदम उठाने होंगे।’

खिलाड़ियों में भी कोरोना संक्रमण

एक तरफ फुटबॉल की बहाली पर चर्चा चल रही है, दूसरी तरफ ये वायरस फुटबॉल जगत में भी एंट्री ले चुका है। स्पेन में पांच खिलाड़ियों को कोरोना वायरस से संक्रमित पाये जाने के बाद पृथकवास पर भेज दिया गया है लेकिन इसके बावजूद बाकी खिलाड़ियों ने व्यक्तिगत अभ्यास शुरू कर दिया है। इसके अलावा कुछ अन्य देशों में भी फुटबॉल खिलाड़ियों या सपोर्ट स्टाफ में कोरोना संक्रमण की पुष्टि के बाद खलबली मची हुई है।

इंग्लिश प्रीमियर लीग भी शुरू होगी?

स्पेन की ला लीगा के अलावा इंग्लैंड की इंग्लिश प्रीमियर लीग को भी शुरू करने पर चर्चाएं जारी हैं। कुछ टीमों के खिलाड़ियों ने हाल में अभ्यास भी किया है। हालांकि इंग्लैंड में भी कोरोना की स्थिति खतरनाक है और ऐसे में खेल गतिविधियां शुरू करना कितना सही है इसका अंदाजा लगाया जाना चाहिए।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर